You are here
Home > breaking > दिल्ली सरकार की उपेक्षा के शिकार अस्पतालों को विहिप ने बांटे पीपीई किट

दिल्ली सरकार की उपेक्षा के शिकार अस्पतालों को विहिप ने बांटे पीपीई किट

नई दिल्ली। विश्व हिन्दू परिषद ने दिल्ली नगर निगम के स्वामी दयानंद अस्पताल में डॉक्टरों और नर्सों को संक्रमण से बचाने वाली 400 पीपीई किट का वितरण किया। अस्पताल के डॉक्टरों, नर्सों और पैरामेडिकल कर्मचारियों ने बताया कि दिल्ली सरकार ने निगम अस्पतालों को सुरक्षा किट यानी पीपीई किट उपलब्ध नहीं कराई है। लिहाजा उन पर संक्रमण का खतरा गहरा गया है। गौर करने वाली बात है कि दिल्ली देश के संक्रमित राज्यों में दूसरे स्थान पर है जहां 2000 से ज्यादा लोग संक्रमित हैं और 47 मरीजों की असमय मौत हो चुकी है, ऐसे में इस तरह की सरकारी अनदेखी अस्पताल प्रशासन सहित आने वालों मरीजों के लिए बेहद खतरनाक हो सकती है।


फंड की कमी से जुझते पूर्वी दिल्ली नगर निगम की मेयर अंजू कमल कांत ने विश्व हिन्दू परिषद के इस अहम योगदान के लिए धन्यवाद दिया। स्वामी दयानंद अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ रजनी ने इस पीपीई किट के लिए विश्व हिन्दू परिषद दिल्ली प्रांत को विशेष आभार जताया साथ ही कहा कि अब हमें काम करने में अतिरिक्त सुरक्षा मिलेगी। विहिप ने पीपीई किट के साथ सैनेटाइजर और मरीजों को खाना भी उपलब्ध कराया। विहिप के दिल्ली प्रांत अध्यक्ष श्री कपिल खन्ना जी, प्रांत कार्याअध्यक्ष श्री वागीश इस्सर जी, उपाध्यक्ष, श्री रुरुदीन प्रसाद रुस्तगी,श्री सुरेन्द्र कुमार गुप्ता जी ,श्री बाबू पनिकर जी, प्रान्त प्रचार प्रसार प्रमुख महेंद्र रावत जी समेत तमाम पदाधिकारी और कार्यकर्ता सोसल डिस्टेंसिग का पालन करते हुवे इस मौके पर मौजूद थे। प्रांत अध्यक्ष कपिल जी ने बताया कि दिल्ली के सभी निगम अस्पतालों को पीपीई किट देने का हमारा प्रयास है ताकि दिल्ली को इस महामारी के सामुदायिक संक्रमण से बचाया जा सके। विहिप ने बताया कि पीपीई, सैनेटाइजर और आहार वितरण के साथ ही अब दिल्ली के सभी स्वास्थ्य कर्मी,मीडिया कर्मियों,पुलिस कर्मियों के लिए फ्लास्क मास्क उपलब्ध कराया जाएगा। इसका वितरण जल्द ही शुरु किया जाएगा।

Top