You are here
Home > HOME > चरखा: कला संस्कृति संगम का हुआ शुभारम्भ, चित्र प्रदर्शनी उद्घाटन से हुई शुरुआत

चरखा: कला संस्कृति संगम का हुआ शुभारम्भ, चित्र प्रदर्शनी उद्घाटन से हुई शुरुआत

महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के उपलक्ष्य में संस्कार भारतीय का तीन दिवसीय कार्यक्रम आज सायं 6 बजकर 30 मिनट पर शुरु हो गया। संस्कृति ज्ञान के पहले सोपान की शुरुआत से पहले सायं 5 बजकर 30 मिनट पर चित्रकला प्रदर्शनी का उद्घाटन किया गया। इस प्रदर्शनी का उद्घाटन सीसीआरटी की अध्यक्षा डॉ हेमलता एस मोहन ने किया। इस प्रदर्शनी में 100 से अधिक मूर्तिकलाओं एवं चित्रों को प्रदर्शित किया गया, जो कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती को समर्पित किया गया।

इस प्रदर्शनी के उद्घाटन के मौके पर नेशनल गैलरी ऑफ मॉर्डन आर्ट के महानिदेशक श्री अद्वैत गड़नायक जी का सानिध्य प्राप्त हुआ। 5 अक्टूबर और 6 अक्टूबर को यह प्रदर्शनी सुबह 11 बजे से रात 9 बजे तक खुली रहेगी। इस प्रदर्शनी परिसर में बुक स्टॉल एवं हस्त शिल्प के भी स्टॉल भी लगाए गए हैं। कार्यक्रम के दौरान चित्रकला, साहित्य, रंगमंच एवं समस्त कलाजगत के गणमान्य लोग मौजूद रहे। आज सायंकाल रखे गए ध्रुपद कार्यक्रम से पहले आधे घंटे का विमर्श-कार्यक्रम भी रखा गया। इसमें दर्शकगणों ने कार्यक्रम से जुड़े रोचक प्रश्न भी पूछे।

आज के कार्यक्रम में सायं 6 बजकर 30 मिनट पर जाने माने ध्रुपद गायक पद्मश्री उस्ताद वसिफुददीन डागर ने अपनी मनमोहक प्रस्तुति दी। इसके प्रस्तोता सुरबहार वादक डॉ अश्विन दलवी जी रहे। इस कार्यक्रम में श्री सुरेश सोनी जी (राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के सह सरकार्यवाह) मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल हुए। संगीत नाट्य अकादमी के अध्यक्ष पद्मश्री श्री शेखर सेन ने इस कार्यक्रम की अध्यक्षता की। वहीं राज्यसभा सांसद डॉ अनिल जैन इस कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के तौर पर शामिल हुए। साथ ही इस समारोह में लोकगायिका श्रीमती मालिनी अवस्थी (पद्मश्री) का भी सानिध्य प्राप्त हुआ।

Leave a Reply

Top