You are here
Home > breaking > असम के सरकारी स्कूलों में तीन लाख से ज्यादा फर्जी विद्यार्थी, सीएम सर्बानंद बोले- होगी कार्रवाई

असम के सरकारी स्कूलों में तीन लाख से ज्यादा फर्जी विद्यार्थी, सीएम सर्बानंद बोले- होगी कार्रवाई

असम के सरकारी स्कूलों में तीन लाख ऐसे फर्जी विद्यार्थियों का पता चला है जिनका पंजीकरण तो हुआ, लेकिन वह आज तक स्कूल नहीं गए। शिक्षा विभाग से जारी हुए एक सरकारी दस्तावेजों में ये सच सामने आया। मुख्यमंत्री सर्बानंद इसके लिये राज्य की पहली सरकार कांग्रेस को दोषी ठहरा रही है । मुख्यमंत्री ने कहा है कि पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार के दौरान यह सब गोलमाल हुआ है।

विज्ञप्ति के मुताबिक साल 2018-19 के दौरान राज्य में शैक्षणिक सत्र के लिए कक्षा एक से बारहवीं तक 46,69,970 बच्चों का पंजीकरण हुआ जबकि साल 2016-17 में यह आंकड़ा 49,82,180 था। इसमें आरोप लगाया गया है कि पूर्ववर्ती सरकार ने विद्यार्थियों को मिलने वाली किताबों, मिडडे मील और यूनिफार्म के लिए मिलने वाले सरकारी पैसों को हड़पने के लिए यह सब किया था।

मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल को समग्र शिक्षा अभियान की समीक्षा बैठक के दौरान बताया गया कि 3,12,000 से ज्यादा फर्जी विद्यार्थियों का आंकड़ा सामने आया है। मुख्यमंत्री ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए कहा कि जो भी इसमें आरोपी पाया जाएगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। 

Top