You are here
Home > breaking > बाजार में उतरी योग गुरू सुनील सिंह की तीसरी किताब ‘अंक, रोग और योग’, खोलेगी निरोग रहने का राज़

बाजार में उतरी योग गुरू सुनील सिंह की तीसरी किताब ‘अंक, रोग और योग’, खोलेगी निरोग रहने का राज़

गाजियाबाद : आज दिनांक 25.03.17, शनिवार को योग गुरू सुनील सिंह की नई किताब “अंक,रोग और योग” का लोकार्पण नमो गंगे ट्रस्ट के फाउंडर आचार्य परम पूजनीय श्री जगदीश जी के कर कमलों द्वारा गाजियाबाद के कविनगर योगशाला में किया.
img-20170325-wa0028
इस मौके पर बड़ी संख्या में योग और उससे जुड़े लोग मौजूद रहे.

किताब के लेखक हैं योग की दुनिया के जानी मानी हस्ती योग गुरू सुनील सिंह. सुनील सिंह देश के शीर्ष पांच योग गुरूओं में से एक हैं. पिछले पांच दशकों मे योग के क्षेत्र में योग गुरू सुनील सिंह ने बेहतरीन काम किया है.
img-20170325-wa0030

इनके तीन हजार से ज्यादा योग प्रोग्राम 29 से ज्यादा टीवी चैनलों पर दिखाए जा चुके हैं. योग पर इनके दो हजार से ज्यादा लेख देश-विदेश के अखबारों और मैगज़िनों में छप चुके हैं. देशभर में ही नहीं विदेशों में भी इन्होने योग के सैकड़ों वर्कशॉप्स किए हैं.

इनके सानिध्य में लाखों लोगों ने योग और उसके लाभ को अनुभव किया है और आज स्वस्थ्य जीवन जी रहे हैं. इस अवसर पर योग गुरू सुनील सिंह जी ने कहा- आधुनिक युग में संसार में तमाम भौतिक सुविधाएं हैं सिवाए खुशियां और सुकून के. स्वस्थ शरीर से बेहतर कोई सुख नहीं लेकिन इस भागदौड़ भरी दुनिया में शरीर को स्वस्थ रखना किसी चुनौती से कम नही हैं. एक तो वक्त की कमी, फास्ट फूड पर बढ़ती निर्भरता, उपर से पर्यावरण में बढ़ता प्रदुषण, हर रोज़ एक नई बीमारी हमारे सामने मुंह खोले खड़ी रहती है. आप अपनी दिनचर्या को संतुलित करें, खान-पान पर ध्यान दें और योग को अपने जीवन में शामिल करें तो आप सभी बीमारियों को बड़ी आसानी से खुद से दूर रख सकते हैं. अंक, रोग और योग पुस्तक आपके जीवन में संतुलन लाने का अनुपम प्रयास है.

आचार्य श्री जगदीश जी द्वारा “नमो गंगे” नाम से एक गैर-लाभकारी संगठन की स्थापना की गयी है जो योग और आयुर्वेद के माध्यम से स्वस्थ समाज के निर्माण में लगा हुआ है. आचार्य जी ने इस अवसर पर सुनील जी के इस प्रयास की सराहना की और कहा कि ये आवश्यक है कि समाज में प्रचलित तमाम अवधारणाओं का उपयोग योग और आयुर्वेद के प्रचार प्रसार में किया जाये. उन्होंने इस पुस्तक को समस्त परिवार के लिए उपयोगी और समाज में योग के प्रति जागरूकता लाने वाला बताया. उन्होंने ये भी कहा नमो गंगे ट्रस्ट हमेशा इस तरह के प्रयासों के अपना समर्थन देता रहेगा.

इस अवसर पर प्रकाशक अयुर योग यात्रा के अतुल गंगवार ने नमो गंगे ट्रस्ट के आचार्य जगदीश महाराज जी और योग गुरू सुनील सिंह जी का धन्यवाद किया और कहा कि अयुर योग यात्रा आयुर्वेद और योग के प्रचार प्रसार में हर संभव कार्य करेगा. भविष्य में भी वो समाजोपयोगी पुस्तकों और योग की डीवीडी, योग आधारित कार्यक्रमों का प्रकाशन, निर्माण करेंगे. नमो गंगे ट्रस्ट और योगशाला की टीम के सहयोग के लिए भी उन्होंने धन्यवाद किया और आशा की कि भविष्य में भी उनका सहयोग इस तरह के कार्यक्रमों के आयोजन के लिए मिलता रहेगा.

Leave a Reply

Top