You are here
Home > NEWS > विकराल हो रही पर्यावरण समस्या के प्रति सचेत नहीं हुए तो भुगतने पड़ेंगे गंभीर परिणाम : स्वामी सहजानंद नाथ

विकराल हो रही पर्यावरण समस्या के प्रति सचेत नहीं हुए तो भुगतने पड़ेंगे गंभीर परिणाम : स्वामी सहजानंद नाथ

हिसार 30 जून | आज दयानंद महाविद्यालय की स्वच्छ भारत समर इंटरशिप-2018 की टीम ने आर्य नगर में पिछले एक माह से चल रही इंटरशिप का समापन समारोह मनाया। इस अवसर पर मिशन ग्रीन फाउंडेशन एवं ऊँ सिद्ध महामृत्युंजय अंतर्राष्ट्रीय योग एवं ज्योतिष अनुसंधान केंद्र के संस्थापक तथा महामृत्युंजय चालीसा के रचयिता स्वामी सहजानंद नाथ मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित हुए। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने उपस्थित लोगों से मिशन ग्रीन फाउंडेशन की पर्यावरण संरक्षण की मुहिम से जुडऩे का आह्वान किया व इसका संकल्प दिलवाया।


अपने संबोधन में स्वामी सहजानंद नाथ ने पर्यावरण संरक्षण व उसकी अनदेखी के दुष्परिणामों के बारे में छात्रों व ग्रामीणों को अवगत करवाया। उन्होंने कहा कि आज जिस तरह से हम पर्यावरण को नुकसान पहुंचा रहे हैं उसके प्रति हम सचेत नहीं हुए तो भविष्य में गंभीर परिणाम भुगतने पड़ेंगे इसलिए हमें अभी से इस दिशा में ठोस कदम उठाने होंगे। अधिक से अधिक पेड़ लगाकर हम पर्यावरण को हो रहे नुकसान को कम कर सकते हैं। केवल पौधारोपण कर अपनी जिम्मेदारी निभाने की बजाय उस पौधे की देखभाल व उसे पेड़ बनने तक हमें उसका ध्यान रखना होगा। मिशन ग्रीन फाउंडेशन का उद्देश्य पर्यावरण को बचाने व उसे पूरी तरह से हरा-भरा करने का है जिसके तहत फाउंडेशन द्वारा व्यापक स्तर पर अभियान चलाया जा रहा है और विभिन्न शिक्षण संस्थानों में व लोगों से फॉर्म भरवाकर इस अभियान से जोड़ा जा रहा है क्योंकि जितने अधिक लोग इस मुहिम से जुड़ेंगे पर्यावरण को बचाने में उतना ही अधिक सहयोग मिलेगा। उन्होंने बताया कि इसके अलावा मिशन ग्रीन फाउंडेशन एक लाख गमले पौधे लगाकर नि:शुल्क वितरित करेगा ताकि लोग पर्यावरण संरक्षण के प्रति जागरुक हो सकें व पेड़-पौधे लगाने के लिए अधिक से अधिक प्रेरित हों। ये गमले विभिन्न प्रतिष्ठानों, घरों, कार्यालय इत्यादि में वितरित किए जाएंगे जिससे वातावरण तो हरा-भरा होगा ही बल्कि लोग भी इस मुहिम से जुड़ेंगे और पर्यावरण के प्रति सचेत होकर अपनी जिम्मेदारी निभाएंगे। उन्होंने वहां उपस्थित सभी लोगों को पेड़-पौधों व पर्यावरण के महत्व के बारे में विस्तार से बताया।


स्वामी सहजानंद नाथ ने आर्य समाज आर्य नगर द्वारा स्वच्छता अभियान के तहत चलाए जा रहे 1 माह के कैंप के लिए आर्य समाज का हृदय से धन्यवाद व्यक्त किया व इस प्रयास की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि आज देश में विभिन्न स्तरों पर जागृति की आवश्यकता है तथा विभिन्न अभियान चलाकर जन-जन को जागृत करके ही हम अपने अभियानों में सफल हो सकते हैं। उन्होंने उपस्थित सभी बच्चों व युवाओं को पर्यावरण संरक्षण की उनकी मुहिम से जुडऩे का आह्वान किया जिस पर सभी ने एकसुर में मिशन ग्रीन फाउंडेशन से जुडऩे का समर्थन किया।


कार्यक्रम में इंटरशिप की टीम के सदस्यों ने भाषण, कविता, नाटक और गीत के माध्यम से लोगों को स्वच्छता के बारे में जागरुक किया। इस मौके पर कॉलेज के एन.एस.एस. ऑफिसर, आर्य समाज मंदिर कमेटी के सदस्य, प्रोफेसर राजेंद्र जाखड़, नवीन प्रधान मेहताब और इंटरशिप की टीम के सदस्य मौजूद रहे। कार्यक्रम में आर्य नगर के ग्रामीणों ने भी बढ़-चढ़ कर भाग लिया। इसमें आजाद युवा मंडल व निफाह टीम का भी विशेष योगदान रहा। मंच का संचालन इंटरशिप टीम के सदस्यों समता और जिले सिंह द्वारा किया गया।

Leave a Reply

Top