You are here
Home > HOME > इंग्लैंड ने भारत को 9 रन से हराकर महिला विश्व कप जीता

इंग्लैंड ने भारत को 9 रन से हराकर महिला विश्व कप जीता

इंग्लैंड ने भारत को 9 रन से हराकर महिला विश्व कप जीता

बोल बिंदास,  दिल्ली, भारतीय महिला क्रिकेट टीम का विश्वकप जीतने का सपना अधूरा रह गया । एक रोमांचक मुकाबले में उसे इंग्लैंड की टीम ने 9 रन से  हरा दिया। इंग्लैंड ने  चौथी बार महिला विश्व कप के खिताब पर कब्जा जमाया। वैसे अपनी सरजमीं पर यह खिताब उसे 24 साल बाद हीथर नाइट की कप्तानी में नसीब हुआ।

इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवर में सात विकेट पर 228 रन का स्कोर बनाया, लेकिन भारतीय टीम 48.4 ओवर में 219 रन पर ढेर हो गई। हालांकि, इंग्लैंड की ओर से नताली सिवर को छोड़कर कोई भी बल्लेबाज अर्धशतक नहीं जड़ सकी। नताली ने 68 गेंदों पर पांच चौकों की मदद से 51 रन बनाए। भारत की ओर से झूलन गोस्वामी सबसे सफल गेंदबाज रहीं। उन्होंने 23 रन देकर तीन विकेट झटके। जवाब में भारतीय टीम की ओर से सलामी बल्लेबाज पूनम राउत ने 86 और हरमनप्रीत कौर ने 51 रन की अर्धशतकीय पारियां खेलकर भारत की जीत की उम्मीद जगाई, लेकिन श्रुबसोल ने 46 रन पर छह विकेट लेकर भारतीय उम्मीदों को चकनाचूर कर दिया।

पूनम और हरमनप्रीत की अर्धशतकीय पारी

दूसरी पारी में जीत के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। मैच के पहले ही ओवर में आन्या सुरुबसोल ने भारतीय ओपनर बल्लेबाज स्मृति मानधाना को बिना खाता खोले ही क्लीन बोल्ड कर दिया। कप्तान मिताली राज 17 रन बनाकर रन आउट हो गईं। सेमीफाइनल में शतक लगाने वाली हरमनप्रीत ने फाइनल में 51 रनों की शानदार पारी खेली। वो ब्यूमॉन्ट की गेंद पर कैच आउट हो गईं। उन्होंने तीसरे विकेट के लिए पूनम के साथ मिलकर 95 रन की साझेदारी की। पूनम राउत ने 114 गेंद पर 86 रन की बेहतरीन पारी खेली। वो सुरुबसोल की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट हो गईं। सुषमा वर्मा बिना कोई रन बनाए ही बोल्ड हो गईं। वेदा ने 34 गेंदों पर 35 रन की अच्छी पारी खेली और कैच आउट हो गईं। झूलन गोस्वामी बिना खाता खोले श्रवसोल की गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गईं। शिखा पांडे 4 रन बनाकर रन आउट हो गईं। दीप्ती शर्मा 14 रन बनाकर कैच आउट हो गई। राजेश्वरी गायकवाड़ श्रवसोल की गेंद पर बिना कोई रन बनाए क्लीन बोल्ड हो गईं।

श्रवसोल ने शानदार गेंदबाजी करते हुए 6 विकेट लिए और अपनी टीम को कप जिताने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

भारतीय गेंदबाजो का शानदार प्रदर्शन

पहले खेलते हुए इंग्लैंड की टीम ने शानदार शुरूआत की और बिना कोई विकेट गंवाए 47 रन बना लिए थे, तभी गायकवाड़ ने इंग्लिश ओपनर विनफील्ड (24) को बोल्ड कर भारत को पहली सफलता दिला दी। इसके बाद टैमी ब्यूमॉन्ट ने पूनम यादव की गेंद पर झूलन गोस्वामी को कैच थमा दिया और भारत को मिली दूसरी सफलता। इसके बाद पूनम ने इंग्लिश कप्तान हेदर नाइट को 01 रन पर एलबीडब्ल्यू आउट कर भारत को तीसरी सफलता दिला दी। इंग्लैंड की कप्तान का विकेट लेने के लिए टीम इंडिया ने रिव्यू का इस्तेमाल किया और ये टीम इंडिया के पक्ष में गया। झूलन गोस्वामी ने 42 रन पर खेल रही सारा टेलर को विकेटकीपर सुषमा वर्मा के हाथों कैच आउट करा कर भारत को चौथी सफलता दिला दी। इसकी अगली ही गेंद पर झूलन ने विलसन को खाता तक खोलने का मौका नहीं दिया और एलबीडब्ल्यू आउट कर भारत को पांचवीं सफलता दिला दी। इसके बाद एक बार फिर झूलन ने अपना अनुभव दिखाते हुए 51 रन बनाकर खेल रही स्काइवर को एलबीडब्ल्यू आउट कर इंग्लिश टीम को छठा झटका दे दिया। कैथरीन ब्रंट 34 रन बनाकर रन आउट हो गईं। जेनी गन 25 और लाउरा मार्श 14 रन बनाकर नाबाद रहीं।

भारत की तरफ से झूलन गोस्वामी ने 3, पूनम यादव ने 2 और राजेश्वरी गायकवाड़ ने एक विकेट लिए।

Leave a Reply

Top