You are here
Home > NEWS > रसोई,बाथरुम और ड्रेसिंग टेबल पर शत प्रतिशत स्वदेशी अपनाएं-कश्मीरी लाल

रसोई,बाथरुम और ड्रेसिंग टेबल पर शत प्रतिशत स्वदेशी अपनाएं-कश्मीरी लाल

लोकतंत्र सेनानी संघ दिल्ली प्रदेश द्वारा आज एक विचार गोष्टी “वर्तमान परिदृश्य में स्वदेशी की उपयोगिता ” का आयोजन किया गया । इस विचार गोष्टी को स्वदेशी जागरण मंच के राष्ट्रीय संगठन मंत्री श्री कश्मीरी लाल जी ने मुख्य वक्ता के सम्बोधित किया ।प्रदेशाध्यक्ष श्री राजन ढींगरा ने श्री कश्मीरी लाल, लोकतंत्र सेनानी संघ के राष्ट्रीय मंत्री श्री धर्मवीर शर्मा तथा राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष श्री संतोष शर्मा का परिचय करवाया । श्री धर्मवीर शर्मा ने लोकतंत्र सेनानी संघ का परिचय देते हुए बताया की आपात- काल(1975-1977) बन्दिओं का यह राष्ट्रीय संगठन राष्ट्र हित में निरंतर कार्यरत है तथा स्वदेशी पर आज की यह गोष्टी भी हमारे उसी प्रयास का एक कदम है ।

स्वदेशी जागरण मंच के राष्ट्रीय संगठन मंत्री श्री कश्मीरी लाल ने अपने सम्बोधन में बताया की स्वदेशी जागरण मंच की स्थापना वर्ष 1991 में श्रद्धेय दत्तोपंत जी ठेंगड़ी द्वारा की गयी थी तथा तभी से यह मंच स्वदेशी को बढ़ावा देने हेतु कार्यरत है ।उन्होंने कहा की लोकतंत्र सेनानियों का यह समूह जिसने आपात काल जैसे घोर विपरीत समय का सामना 45 वर्ष पहले किया था आज भी वर्तमान चुनौती का डटकर मुकाबला करेंगे ।आज की परस्थिति में स्वदेशी के आंदोलन को अधिक सशक्त करने की आवश्यकता है ।श्री कश्मीरी लाल ने कहा की हम अधिक ना भी करें केवल अपनी रसोई, बाथरूम और ड्रेसिंग टेबल इन तीन स्थानों पर शत प्रतिशत स्वदेशी अपनाने का संकल्प करें । लोकतंत्र सेनानी संघ के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष श्री संतोष शर्मा ने श्री कश्मीरी लाल जी का इस प्रेरणाप्रद मार्गदर्शन हेतु धन्यवाद किया तथा बताया की वर्तमान में कई राज्य सरकारें आपातकाल बन्दिओं को लोकतंत्र सेनानी मानकर सम्मान व सुविधा दें रही है ।₹10000/- से ₹25000/- तक का मानदेय भी राज्यों द्वारा दिया जा रहा है ।क्योंकि आपातकाल केंद्र सरकार का विषय था अतः वर्तमान मोदी सरकार को आपातकाल बन्दिओं को सम्मान व सुविधा देने पर गंभीरता से विचार करना चाहिए । कार्यक्रम के अंत में लोकतंत्र सेनानी संघ के प्रदेश उपाध्यक्ष श्री विजय गुप्ता “बंटी “ने सभी वक्ताओं एवं उपस्थित सहभागी बन्धुओं का धन्यवाद ज्ञापित किया ।

Top