You are here
Home > MANORANJAN > बाजीराव को पड़ी मनोचिकित्सक की जरुरत

बाजीराव को पड़ी मनोचिकित्सक की जरुरत

रणवीर सिंह उन एक्टर्स में से हैं, जो अपने काम में पूरी तरह से डूब जाते हैं. किसी कैरेक्टर में उतरने के लिए वो उसी दर्द से गुजरते हैं, जिस तरह की दर्द की अपेक्षाएं उस कैरेक्टर से होती है.

रणवीर फिलहाल संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘पद्मावती’ में क्रूर शासक अलाउद्दीन खिलजी की भूमिका निभा रहे हैं. खबरों के मुताबिक, रणवीर ने इस रोल के लिए बहुत मेहनत की. आम तौर पर वो फन लविंग इंसान हैं, लेकिन इस रोल के लिए उन्होंने खुद को अपने अपार्टमेंट में हफ्तों बंद रखा, ताकि वो अपना दिमाग इस किरदार के लिए तैयार कर सकें.

फिल्म की शूटिंग भी लगभग एक साल से हो रही है. इसलिए उसी किरदार में इतने लंबे समय तक बने रहना मुश्किल था. इससे उनके व्यवहार में भी बहुत परिवर्तन आ गया. उनके दोस्तों ने उन्हें सलाह दी है कि इस समस्या से बाहर आने के लिए उन्हें मनोचिकित्सक की मदद लेनी चाहिए.

सेट पर भी उनके व्यवहार की बहुत चर्चा हो रही थी. कभी-कभी वो डार्क मूड में रहते थे और चाहते थे कि कोई उनके आस-पास ना आए. अब मनोचिकित्सक के पास जाना ही सही उपाय है. उन्होंने खुद को चियर करने के लिए एक लग्जरी कार भी खरीदी है. वो फिल्म के हर शेड्यूल के बाद हॉलीडे पर भी जाते थे.

इसके पहले ‘बाजीराव मस्तानी’ के लिए भी रणवीर ने कुछ ऐसी ही तैयारी की थी. फिल्म के तीसरे एक्ट की तैयारी में उन्होंने खुद को बीमार कर लिया था, क्योंकि उस एक्ट में पेशवा बाजीराव का कैरेक्टर बीमार रहता है.

‘पद्मावती’ से दीपिका पादुकोण और शाहिद कपूर का लुक हाल ही में रिलीज किया गया है. रिलीज से पहले ही फिल्म विवादों में घिर चुकी है.

कहा जा रहा है कि इसमें रणवीर को बाइसेक्सुअल रोल में दिखाया जाएगा. साथ ही खबर यह भी है कि इसमें जौहर की प्रथा को भी दिखाया गया है. हालांकि मेकर्स ने अभी तक दोनों ही बातों को कंफर्म नहीं किया है. फिल्म इस साल 1 दिसंबर को रिलीज होगी.

Leave a Reply

Top