You are here
Home > NEWS > योगा लवर्स द्वारा17वीं कार्यशाला प्राण ऊर्जा और ध्यान कार्यशाला का आयोजन

योगा लवर्स द्वारा17वीं कार्यशाला प्राण ऊर्जा और ध्यान कार्यशाला का आयोजन

द्वारका स्थित एन.एस.एस के प्रागण में योग गुरू सुनिल सिंह जी के सानिध्य में योगा लवर्स टीम द्वारा 15 तारिख को 17वीं कार्यशाला प्राण ऊर्जा और ध्यान कार्यशाला का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम का शुभारंभ एन. एस. एस के प्रेजिडेन्ट श्री एम .के .जी पिल्लई जी के द्वारा दीप प्रज्वलन करके किया गया। कार्यक्रम में मंच का संचालन भारती शर्मा द्वारा बड़े ही कुशलता के साथ किया गया। जिसके बाद योग गुरू सुनील सिंह जी ने प्राण ऊर्जा और ध्यान कार्यशाला पर  प्रकाश डालते हुए बताया कि किस प्रकार प्राण  ऊर्जा हमारे शरीर में एक जीवनी शक्ती की तरह कार्य करती है।  वहीं कार्यक्रम में प्रथम वक्ता के रूप में योग गुरू और न्यूरोपैथ श्री सेवक जगवानी जी ने लोगों को जीवन में योग व हास्य का महत्व बताते हुए कुछ रोचक हास्यासन कराएं। साथ ही उन्होने बताया कि कैसे जीवन में  ज्ञान को अपनाकर और अभिमान का त्याग कर हम अपना शारीरिक और मानसिक विकास कर सकते है।  कार्यक्रम में दूसरे वक्ता के रूप में  ध्यान गुरू श्री योगी आनंद जी ने लोगों को ध्यान की कई अनोखी विधियों से अवगत कराते हुए कहा कि अपने स्वरूप में स्थित होना ही ध्यान है।

सम्पूर्ण आनंद का केंद्र हमारा चित है और हमें अंहकार को विसर्जित कर स्वयं चिदानंद स्वरूप होना चाहिए। कार्यक्रम में काफि संख्या में लोगों ने भाग लिया। इस मौके पर महत्वपूर्ण सहयोगियों व प्रतिभागियों को भेट स्वरूप स्मृति चिन्ह व पटका प्रदान कर सम्मानित भी किया गया। जिसमें एन. एस. एस के प्रेजिडेन्ट श्री एम .के .जी पिल्लई जी को योग गुरू सुनील सिंह जी ने स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया।  वहीं मान्यता दत्ता जी ने योग  गुरू श्री सेवक जगवानी जी को और योगा लवर्स ट्रस्ट के सदस्य अनील प्रकाश व महेश केसर जी ने ध्यान गुरू योगी आनंद जी को सम्मानित किया।

Leave a Reply

Top