You are here
Home > breaking > मुंबई में मराठा क्रांति मोर्चा: आरक्षण को लेकर प्रदर्शन, लगाया जाम

मुंबई में मराठा क्रांति मोर्चा: आरक्षण को लेकर प्रदर्शन, लगाया जाम

मुंबई मे आज मराठा माह रैली के कारन मुंबई वासिओं को आज महा जाम से झूंझना पड रहा है। सरकारी नौकरियों और शिक्षा में 16 प्रतिशत आरक्षण के लिए मराठा समाज के लोगों के मुंबई की सड़कों पर उतरने से जगह-जगह जाम की खबरें आ रही हैं। मराठा समाज का यह मूक मोर्चा है। इसमें कोई नारेबाजी और भाषणबाजी नहीं है, ना ही इस मोर्चे में किसी राजनीतिक दल का बैनर है। बावजूद इसके मुंबई की रफ्तार थम सी गई है।

सुबह से मुंबई होगी जाम

मराठा मोर्चा में शामिल होने के लिए मंगलवार से ही राज्य भर से लोग मुंबई पहुंचने शुरू हो गए थे। महाराष्ट्र के हर हिस्से से लोग मुंबई आ रहे हैं। मुंबई की तरफ आने वाले रास्तों पर बड़ी संख्या में भगवा झंडे लगाए हुए वाहन आते दिखाई दिए। मुंबई-पुणे और मुंबई-नासिक दोनों हाइवे पर मुंबई की ओर आने वाले यातायात में मंगलवार सुबह से ही रोज की अपेक्षा ज्यादा गाड़ियां दिखाई दीं। इसके अलावा मुंबई आने वाली बसों और ट्रेनों से भी लोग बड़ी संख्या में मुंबई पहुंच रहे हैं। खबर है कि मध्यप्रदेश, गुजरात, राजस्थान और अन्य प्रदेशों में बसे मराठा समाज के लोग भी मोर्चे में शामिल होने के लिए मुंबई पहुंच रहे हैं।

ये मार्ग पूरी तरह से बंद

  •  दादर अग्निशमन चौक से जेजे उड्डाणपुल शुरू होता है वहां तक यातायात पूरी तरह बंद रहेगा।
  •  मेट्रो चौक से मुंबई महानगर पालिका की तरफ आने वाले रास्ते पर भी यातायात पूरी तरह से बंद रहेगा।
  •  जेजे उड्डाण पुल से छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस आने वाले रास्ते पर भी यातायात पूरी तरह से बंद रहेगा।
  •  हजारीमल सोमानी मार्ग पर भी यातायात पूरी तरह से बंद रहेगा।
  •  कर्नाक बंदर चौक से कर्नाक पुल की तरफ जाने वाला यातायात भी पूरी तरह से बंद रहेगा।
  •  भाटिया बाग से छत्रपति शिवाजी महाराज चौक तक जाने वाले रास्ते पर दांई ओर मुड़ने वाला यातायात बंद रहेगा।

भायखला से शुरुआत

मराठा मोर्चा की शुरुआत भायखला स्थित जीजामाता उद्यान से होगी और मोर्चा जेजे उड्डाणपुल से होता हुआ आजाद मैदान पहुंचेगा। जिस तरह की तैयारी मोर्चे को लेकर की गई है और राज्य भर में जो माहौल बना है उसे देखते हुए आयोजकों का दावा है कि कम से कम 20 लाख लोग इस मोर्चे में हिस्सा ले सकते हैं। इतनी बड़ी संख्या में लोगों के आने की संभावना ने मुंबई के नागरिक और पुलिस प्रशासन की नींद उड़ा रखी है। सारा प्रशासन पिछले दो दिन से मोर्चे को बिना किसी गड़बड़ी के संपन्न कराने के लिए पसीना बहा रहा है।

-ऋषभ अरोड़ा

Leave a Reply

Top