You are here
Home > NEWS > मारा गया अय्याश आतंकी दुजाना ,लड़कियों के लिए बन गया था खतरा

मारा गया अय्याश आतंकी दुजाना ,लड़कियों के लिए बन गया था खतरा

लश्कर के टॉप कमांडर अबु दुजाना को एनकाउंटर में मार गिराया. लश्कर कमांडर को ढेर करने के बाद पुलिस ने बताया कि जम्मू कश्मीर में दुजाना अय्याशी करता था। इसके लिए वह किसी के भी घर में घुस जाया करता था। पुलिस ने कहा, ‘दुजाना एक तरह से इलाके में लड़कियों के लिए एक खतरे कीतरह बन गया था। वह एक अय्याश था।’ पुलिस ने बताया कि अबु दुजाना सेना पर कई हमलों के मामलों में वांछित था और वह A++ कैटेगरी का लश्कर आतंकी था।

आईजी मुनीर खान ने बताया कि चाहे कितने लोग भी पत्थरबाजी करें लेकिन आतंक के खात्मे की ओर हमारा अभियान जारी रहेगा। उन्होंने कहा, एनकाउंटर के दौरान आतंकी लगातार गोलीबारी कर रहे थे। उन्हें सरेंडर करने के लिए भी कहा गया था।’

बता दें कि पुलवामा के हकीरपुरा गांव में सुबह तीन बजे से मुठभेड़ शुरू हुई थी। इस मुठभेड़ में एक स्थानीय आतंकवादी आरिफ लालिहारी भी मारा गया है।

कौन था आतंकी अबु दुजाना

  • पिछले कई महीनों से सुरक्षाबलों ने दुजाना का मारने के लिए कई ऑपरेशन चलाए थे, उसपर 35 लाख का ईनाम घोषित है।
  • लश्कर ए तैयबा का कश्मीर यूनिट का मुखिया था अबु दुजाना
  • 4. 27 साल का अबु दुजाना गिलगिट बलतिस्तान का रहने वाला था।साल 2017 के फरवरी में भी दुजाना सुरक्षा बलों को चकमा देने में कामयाब हुआ था।
  • साल 2017 के मई में भी अबु ने सुरक्षाबलों को चकमा दिया था। एक बार अबु पकड़ा भी गया था, लेकिन पत्थरबाजों की आड़ में भागने में सफल हुआ था।
  • अबु कसीम की मौत के बाद दुजाना ने ही कश्मीर की कमान संभाली थी।
  • 17 जवानों की मौत का जिम्मेदार है दुजाना।
  • 20 आतंकी संगठनों को चलाता था और उधमपुर आतंकी हमले का आरोपी भी है।
  • दुजाना बुरहान वानी का भी करीबी था और उसकी अंतिम विदाई में भी शरीक था।
  • दुजाना को आतंकियों के ग्रेड में A++ मिली हुई थी, इसका मतलब वो काफी सक्रिय आतंकी था।

सालभर में सेना ने एक साल में पांच कमांडर को उतारा मौत के घाट

एनकाउंटर के पास हुए हिंसक प्रदर्शनकारियों एवं सुरक्षा बलों के बीच हुई झड़पों में आज कम से कम दो लोग घायल हो गए। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि 100 से अधिक ‘शरारती तत्वों’ नेपुलवामा के हकरीपोरा में आतंकवाद विरोधी अभियान में शामिल सुरक्षाबलों पर पथराव शुरू कर दिया।

उन्होंने बताया कि सुरक्षा बलों ने प्रदर्शनकारियों को तितर बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले, पेलेट और गोलियों का इस्तेमाल किया। उन्होंने कहा कि सुरक्षा बलों की इस कावार्ई में दो व्यक्ति घायल हो गए। अंतिम रिपोर्ट मिलने तक झड़प जारी थी।

 

सम्वाददाता – अमन शर्मा

Leave a Reply

Top