You are here
Home > breaking > चारा घोटाला: दो बजे के बाद होगा लालू की सजा का ऐलान

चारा घोटाला: दो बजे के बाद होगा लालू की सजा का ऐलान

चारा घोटाला से जुड़े एक मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सजा का ऐलान गुरुवार को किया जाना है। सीबीआई की विशेष अदालत इस मामले में दोषी ठहराए गए आरजेडी प्रमुख और अन्‍य के खिलाफ सजा सुनाएगी। इस पर फैसला बुधवार को ही आना था, लेकिन इसे गुरुवार तक के लिए टाल दिया गया।

अदालत ने 950 करोड़ रुपये के चारा घोटाले से जुड़े एक मामले में उन्‍हें 23 दिसंबर को दोषी ठहराया था। मामला देवघर कोषागार से 89 लाख, 27 हजार रुपये की अवैध निकासी से जुड़ा है। कोर्ट ने इस मामले में लालू सहित 16 आरोपियों को दोषी ठहराया है। इस मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा भी आरोपी थे, लेकिन कोर्ट ने उन्हें बरी कर दिया।

12: 15 AM : जेडीयू के वरिष्ठ नेता विजेंद्र यादव ने कहा- लालू की सजा का बिहार की राजनीति पर असर नहीं पड़ेगा. विपक्ष में राजद है और रहेगा.

12: 02 PM : राजद विधायक शक्ति सिंह यादव ने कहा कि कोर्ट का जो भी फैसला आएगा हम उसका सम्मान करेंगे…जरूरत पड़ी तो सुप्रीम कोर्ट जायेंगे… हमारी पार्टी जन समस्याओं को लेकर आवाज उठाती रहेगी.

11: 50 AM : RJD नेता रघुवंश प्रसाद ने कहा- “मिनिमम सजा की उम्मीद”

11: 00 AM : लालू को दो बजे के बाद सजा सुनाये जाने की संभावना है.

10: 45 AM : बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद के पटना हाई कोर्ट के अधिवक्ता चितरंजन सिन्हा, रांची के अधिवक्ता प्रभात कुमार कोर्ट में पहुंच चुके हैं.

10: 18 AM : लालू के लिए चार स्कॉर्ट गाड़ी पहुंची जेल. कोर्ट परिसर में किसी भी समर्थक को प्रवेश नहीं करने दिया जा रहा है.

10: 06 AM : होटवार के बिरसा मुंडा जेल के बाहर आज कम नजर आ रहे हैं लालू के समर्थक. जेल के बाहर सुरक्षा के पुख्‍ता इंतजाम हैं. लालू को 10: 30 बजे जेल से कोर्ट ले जाया जाएगा. उनके काफिले में एक एम्बुलेंस भी होगी साथ.

09: 45 AM : चारा घोटाले में देवघर कोषागार (आरसी 64ए/96) से 89 लाख रुपये के फर्जीवाड़ा मामले में बुधवार को दो अधिवक्ताओं की मौत के बाद शोकसभा (कंडोलेंस) के कारण सीबीआइ कोर्ट का फैसला नहीं आया. कोर्ट गुरुवार से फैसला सुनाने की कार्रवाई शुरू करेगी.

09: 30 AM : गुरुवार सुबह लालू प्रसाद यादव ने जेल के भीतर सुबह-सुबह नहा धोकर दुर्गा चालीसा का पाठ किया.

इनकी सजा पर होना है निर्णय :

-लालू प्रसाद, बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री सह राजद प्रमुख

-जगदीश शर्मा, पूर्व सांसद

-आरके राणा, पूर्व विधायक

-फूलचंद सिंह, पूर्व विकास आयुक्त

-बेक जूलियस, पूर्व पशुपालन सचिव, बिहार

-महेश प्रसाद, पूर्व पशुपालन सचिव, बिहार

-डॉ कृष्ण कुमार, पूर्व पशुपालन पदाधिकारी

-सुबीर भट्टाचार्य, पूर्व ट्रेजरी आॅफिसर पूर्व आपूर्तिकर्ता

-त्रिपुरारी मोहन प्रसाद

-राजा राम जोशी

-सुनील कुमार सिन्हा

-सुशील कुमार सिन्हा

-सुनील गांधी

-संजय कुमार अग्रवाल

-ज्योति कुमार झा

-गोपीनाथ दास

मिश्रा सहित छह हो चुके हैं बरी : उक्त मामले में अदालत ने बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा, बिहार के पूर्व मंत्री विद्यासागर निषाद, बिहार विधानसभा की लोक लेखा समिति (पीएसी) के तत्कालीन अध्यक्ष ध्रुव भगत, अधीरचंद्र  चौधरी, सरस्वती चंद्रा और साधना सिंह  को निर्दोष करार देते हुए मामले से बरी कर दिया था.

ट्रायल के दौरान इन आरोपियों की हुई मौत : ट्रायल के दौरान आरोपियों में श्याम बिहारी सिन्हा, शेषमुनी राम, भोला  राम तूफानी, चंद्रदेव प्रसद वर्मा, राजो सिंह, ब्रजभूषण प्रसाद, ओमप्रकाश  गुप्ता, महेंद्र प्रसाद, के. अरुमुगम. इनके अलावा एक सरकारी गवाह राघवेंद्र किशोर दास की भी मौत हो चुकी है.

एक नजर:

-देवघर कोषागार से अवैध निकासी मई-जून 1991 से अगस्त 1994 के बीच हुआ

-निकासी की राशि 89 लाख रुपये से ज्यादा थी

-सीबीआइ ने मामले में 15 मई 1996 को दर्ज की थी प्राथमिकी

-जांच एजेंसी ने 27 अक्तूबर 1997 और 25 अगस्त 2004 को चार्जशीट की

-आरोप गठन 29 मई 2005

-कुल आरोपी 38-11 की हो चुकी मौत

-तीन बने सरकारी गवाह, एक की मौत

-ट्रायल के आरोपी 22

-आरोपियों का बयान जुलाई 2014 काे हुआ था दर्ज

-सीबीआइ की ओर से 160 गवाहों को किया गया पेश

-लालू की ओर से 16 गवाह किये गये पेश

-दो मामलों आरसी 64ए/96 और आरसी 20ए/96 में लालू ने सीबीआइ जज बदलने की मांग हाइ कोर्ट से की थी

कम से कम सजा की मांग करेंगे लालू के अधिवक्ता
मामले में लालू के अधिवक्ता विष्णु कुमार ने कहा कि वे गुरुवार को कोर्ट में अपने मुवक्किल को कम से कम सजा दिलाने का आग्रह कोर्ट से करेंगे. वहीं, वरिष्ठ अधिवक्ता प्रभात कुमार ने कहा कि सीबीआइ कोर्ट ने पहले चार-चार दोषियों के सजा के बिंदु पर एक दिन में फैसला किये जाने की बात कही थी. इस पर उनकी ओर से आग्रह किया गया कि कम से कम आठ दोषियों पर एक दिन में फैसला ले लिया जाये. इस पर कोर्ट ने कहा कि कल देखा जायेगा.

Leave a Reply

Top