You are here
Home > breaking > कुमार विश्वास बोले, ‘मुझे शहीद तो कर दिया लेकिन मेरे शव के साथ छेड़छाड़ न करें’

कुमार विश्वास बोले, ‘मुझे शहीद तो कर दिया लेकिन मेरे शव के साथ छेड़छाड़ न करें’

नई दिल्ली : राज्यसभा के लिए आम आदमी पार्टी की ओर से 3 नामों की घोषणा किए जाने के बाद पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं कवि कुमार विश्वास ने अपनी प्रतिक्रिया दी। कुमार विश्वास ने बुधवार को कहा कि उच्च सदन के लिए जिन तीन नामों की घोषणा की गई है उसके लिए वह पार्टी को धन्यवाद देते हैं। कुमार विश्वास ने कहा कि पार्टी ने उन्हें सच बोलने की सजा दी है।

गौरतलब है कि दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने राज्यसभा के लिए पार्टी के नेता संजय सिंह, सुशील गुप्ता और एन. डी. गुप्ता के नामों की घोषणा की। सुशील गुप्ता कांग्रेस के पूर्व नेता हैं जबकि एन. डी. गुप्ता पेशे से चार्टर्ड एकाउंटेंट हैं।

पार्टी की ओर से तीन नामों की घोषणा किए जाने के बाद कुमार विश्वास ने मीडियाकर्मियों से कहा, ‘भ्रष्टाचार, सर्जिकल स्ट्राइक, कार्यकर्ताओं की उपेक्षा जैसे कई मुद्दों पर मैंने सच बोला। मुझे सच बोलने की सजा दी गई है। सुशील गुप्ता और एन. डी. गुप्ता का चयन करने के लिए मैं पार्टी को बधाई देता हूं।’ विश्वास ने उम्मीद जताई की राज्यसभा में ये लोग पार्टी और कार्यकर्ताओं की आवाज मजबूती के साथ रखेंगे।

विश्वास ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर तंज कसते हुए कहा, ‘युद्ध का भी एक नियम होता है। मैं अरविंद से अनुरोध करता हूं कि मुझे शहीद तो कर दिया लेकिन मेरे शव के साथ छेड़छाड़ न किया जाए।’

वहीं, आप से निष्कासित नेता एवं दिल्ली के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने आरोप लगाया कि आप ने राज्यसभा के लिए टिकट बेचा है। उन्होंने कहा, ‘जिन दो नामों का चयन किया गया है, उनका आंदोलन से कोई वास्ता नहीं रहा है। आम आदमी पार्टी ने पैसे लेकर टिकट बेचे हैं।’ कपिल मिश्रा ने इस बारे में कई ट्वीट भी किए हैं।

Leave a Reply

Top