You are here
Home > NEWS > केरल: जान पर खेलकर बाढ़ में फंसे लोगों को बचा रहे हैं राहतकर्मी

केरल: जान पर खेलकर बाढ़ में फंसे लोगों को बचा रहे हैं राहतकर्मी

देश का दक्षिणी राज्य केरल इन दिनों भीषण बाढ़ की त्रासदी से जूझ रहा है. लगातार हो रही मूसलाधर बारिश से राज्य के हालात बेहद खराब हैं. यहां भारी बारिश ने पिछले 100 वर्षों का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. बारिश और बाढ़ से अब तक राज्य में 324 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 3 लाख से ज्यादा लोग बेघर हो गए हैं.

बाढ़ से प्रभावित लोगों के राहत और बचाव में एनडीआरएफ से लेकर रैपिड एक्शन फोर्स लगाई गई है. सेना के जवान और नेवी भी इस काम में बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं. यह सभी रात-दिन बाढ़ में फंसे लोगों को निकाल कर सुरक्षित जगहों पर पहुंचाने में जुटे हैं.

आपदा और संकट की इस घड़ी में बाढ़ पीड़ितों के लिए भगवान के रूप में मदद करने पहुंचने वाले इन जवानों के कई वीडियो इंटरनेट और सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं.

कोच्चि में नेवी के जवान अपनी जान की परवाह किए बिना बाढ़ प्रभावित इलाकों में राहत सामग्री पहुंचा रहे हैं. हेलिकॉप्टर से हर जिले, जवार में रस्सियों के सहारे यह नीचे पहुंचकर जवान खाने की सामग्री लोगों तक पहुंचा रहे हैं.
इसके अलावा एनडीआरएफ और पुलिसकर्मी मिलकर बाढ़ से डूबे इलाकों में फंसे लोगों को बाहर निकालकर सुरक्षित जगह पर पहुंचाने का काम कर रहे हैं.
पलक्कड में बाढ़ में बह गए पुल को कठिन परिस्थितियों में लकड़ी का कामचलाऊ पुल बनाकर आरएएफ यानी रैपिड ऐक्शन फोर्स के जवान लोगों तक राहत सामग्री पहुंचा रहे हैं.
पिछले दिनों कोच्चि में एक वीडियो सामने आया था. जिसमें एनडीआरएफ के एक जवान कन्हैया कुमार बाढ़ की लहरों में फंसे छोटे बच्चे को अपनी बाहों में लेकर तेजी से भागते दिखे थे. एनडीआरएफ के इस जवान की बहादुरी की हर तरफ तारीफ हुई.

इन सारी तस्वीरों और वीडियो को देखते हुए लोग राहत और बचावकर्मियों को असल हीरो बता रहे हैं.

Leave a Reply

Top