You are here
Home > breaking > अंतर्राष्ट्रीय योग फिल्म महोत्सव में दिखी एक से एक फिल्में

अंतर्राष्ट्रीय योग फिल्म महोत्सव में दिखी एक से एक फिल्में

नई दिल्ली: योग पर पहली बार अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव का आयोजन किया है. नमो गंगे ट्रस्ट की तरफ से हुए इस आयोजन में कुल 232 फिल्मों को एंट्री मिली. दिल्ली के आज़ाद भवन के ऑडीटोरियम में हुए इस फिल्म महोत्सव में योग से जुड़ीं कई बड़ी हस्तियों व युवा फिल्मकारों ने शिरकत किया.
img_7074s
प्रथम अन्तराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव की शुरुआत राष्ट्रीय गान और शास्त्रीय संगीत से हुई. उत्सव का शुभारंभ नमो गंगे ट्रस्ट के संस्थापक आचार्य श्री जगदीश जी महाराज, ICCR की डिप्टी डायरेक्टर जनरल श्रीमती नम्रता कुमार जी, मारवा फिल्म्स एंड स्टूडियोज के फाउंडर श्री संदीप मारवा जी, यूनाइटेड नेशन के डाइरेक्टर जनरल श्री राजीव चंद्रन जी,नमो गंगे ट्रस्ट के चेयरमैन श्री विजय शर्मा जी, योग गुरु सुनील जी तथा योगशाला प्रभारी श्री मुकेश कुमार जी ने दीप जलाकर किया। namo-gange

इंटरनेशनल योग फिल्म फेस्टिवल के प्रतियोगिता श्रेणी के प्रथम चरण में कुल २३२ फिल्म्स को एंट्री मिली जिन मे से द्वतीय चरण के लिए लगभग ६० फिल्मो का चयन किया गया और फाइनल राउंड में चयनकर्ताओ ने 17 फिल्मो को स्क्रीनिंग के लिए चुना . इस फिल्म फेस्टिवल में योगा से ही होगा, योगंशरणम्गच्छामि, नादयोग, मेरीडायरी, जैसी कुछ सर्वश्रेष्ठ फिल्में दिखाई गयी. फिल्म फेस्टिवल के जूरी राघवेश अस्थाना, नीरज सूजी, अशोक श्रीवास्तव एवं योगगुरु सुनील सिंह जी ने बच्चो के प्रयास की भरपूर सराहना की.
namo-gange2
बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी के पत्रकारिता विभाग के आदित्यनारायण ओझा और भव्या पांडेय को उनकी फिल्म‘स्वर्ग या नर्क’के लिए प्रथम पुरष्कार दिया गया. दूसरा पुरस्कार अतुल बिष्ट की ‘सेंट ऑफ योगा’ को दिया गया तथा तीसरा पुरस्कार सौरभ सुमन झा की ‘योगा इन लाइफ’ को मिला.

इसके अतिरिक्त योग फिल्म महोत्सव में कुछ 37 इंस्टीट्यूसनल फिल्मो को भी शामिल किया गया जिनमें से दूरदर्शन, फिल्म डिवीज़न, ईशा फाउंडेशन, कैवल्यधाम जैसे बड़े संस्थानों की फिल्में शामिल थीं.

Leave a Reply

Top