You are here
Home > HOME > इमाम-ए-हिंद:राम- सब के राम विषय पर दिल्ली में संवाद का आयोजन, आरिफ़ मोहम्मद ख़ान हैं मुख्य वक्ता

इमाम-ए-हिंद:राम- सब के राम विषय पर दिल्ली में संवाद का आयोजन, आरिफ़ मोहम्मद ख़ान हैं मुख्य वक्ता

title_title
hindi_title

बोल बिंदास, दिल्ली- इमाम-ए-हिंद: राम (नाटक) डॉ. मोहम्मद अलीम की कलम से साकार हुआ है। वाल्मीकि रामायण पर आधारित ये नाटक अपनी तरह का पहला प्रयास है। उर्दू भाषा में इससे पहले नाटक के तौर पर राम कथा कहीं नहीं दिखाई देती है। राम भारत के जन-जन में रचे बसे हुए हैं । आप चाहें तो उन्हे ईश्वर मानिए, या फिर उसका अवतार या उन्हें अयोध्या के राजा मर्यादा पुरुषोत्तम राम के रूप में देखिए, राम भारत के करोड़ों लोगों की आस्था-विश्वास-श्रृद्धा का केन्द्र हैं। आप भारत की मिट्टी से राम को अलग नहीं कर सकते। राम हमारी संस्कृति का अभिन्न हिस्सा हैं। प्रसिद्ध शायर और सारे जहां से अच्छा हिन्दुस्तां हमारा गीत के जनक अल्लामा इक़बाल भी राम पर गर्व महसूस करते हैं। वह लिखते हैं:

है राम के वजूद पे हिंदुस्तां को नाज़

अहले-नज़र समझते हैं उनको इमाम-ए-हिंद

सियासत के इस दौर में डॉक्टर मोहम्मद अलीम का यह प्रयास बदलते हिंदुस्तान की एक नई तस्वीर विश्व के सामने लाने की सलाहियत रखता है।

वाल्मीकि रामायण’ एक विशाल ग्रंथ है जिसमें राम कथा से संबंधित अनेकानेक प्रसंग हैं। ज़ाहिर है कि उन तमाम प्रसंगों को एक नाटक में शामिल करना नामुमकिन है। इसलिए मोहम्मद अलीम ने अपने नाटक में उन्हीं प्रसंगों को तरजीह दी है जो कि बहुत महत्वपूर्ण हैं। हिंदी के सुप्रसिद्ध आलोचक आचार्य रामचंद्र शुक्ल ने ‘ हिंदी साहित्य का इतिहास’ नामक अपनी पुस्तक में कहा है कि सहृदय पाठक वही हैं, जिन्हें मर्मस्थलों की पहचान है।

इस नाटक की पुस्तक देवनागरी तथा उर्दू दोनों लिपि में प्रकाशित हुई है जिसका विमोचन रविवार , 1 सितम्बर 2019 को दोपहर तीन बजे नई दिल्ली स्थित कॉन्स्टीट्यूशन क्लब में किया जाएगा । इस अवसर पर अदबी कॉकटेल एवं डायलॉग इनिशिएटिव फाउंडेशन, दिल्ली द्वारा इंदिरा गांधी राष्ट्रीय जनजातीय विश्वविद्यालय के संयुक्त तत्वावधान में एक संवाद का आयोजन किया गया है जिसका विषय है : इमाम ए हिन्द : राम – सबके राम। संवाद में उर्दू भाषा, साहित्य एवं संस्कृति में रामायण की उपस्थिति तथा प्रासंगिकता पर विशेष रुप से विचार विमर्श किया जाएगा।

संवाद कार्यक्रम के मुख्य वक्ता प्रख्यात इस्लामी चिंतक एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री, श्री आरिफ मोहम्मद खान होंगे। उदासीन आश्रम के महामंडलेश्वर स्वामी राघवानन्द कार्यक्रम के मुख्य अतिथि होंगे तथा प्रसिद्ध चिंतक एवं पूर्व सांसद, राज्य सभा, डॉ महेश चन्द्र शर्मा अध्यक्षता करेंगे । इंदिरा गांधी राष्ट्रीय जनजातीय विश्वविद्यालय, अमरकंटक के कुलपति प्रोफेसर कट्टीमनी विशिष्ट अतिथि होंगे ।

imam-e-hind-ram-invite

कार्यक्रम

इमाम-ए-हिंद: राम- सबके राम

संवाद एवं पुस्तक विमोचन

स्थान- डिप्टी स्पीकर हॉल,कॉस्टीटयूशन क्लब ऑफ इंडिया, रफी मार्ग

समय 3 बजे

Top