You are here
Home > breaking > BJP नेता के विवादित बोल-‘लड़की रात 12 बजे क्यों गई बाहर’

BJP नेता के विवादित बोल-‘लड़की रात 12 बजे क्यों गई बाहर’

आईएएस अफसर की बेटी के साथ हरियाणा के बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला के बेटे विकास बराला द्वारा की गई छेड़छाड़ का कथित मामला गर्माने लगा है। पुलिस जांच में घटना वाले इलाके के 9 में से 6 सीसीटीवी कैमरा खराब मिलने पर चंडीगढ़ पुलिस की मुश्किलें बढ़ने लगी है। कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि, 9 में से 6 सीसीटीवी कैमरे खराब थे, काम नहीं कर रहे थे। उन सीसीटीवी कैमरों ने अचानक कैसे काम करना बंद कर दिया? इस केस के अहम सुबूत को हमने खो दिया है। सुरजेवाला ने कहा कि, इस घटना से साफ जाहिर होता है कि बीजेपी चंडीगढ़ प्रशासन पर विकास बराला को बचाने के लिए दबाव बना रही है।

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर आईएएस की बेटी के साथ हुई छेड़छाड़ की निंदा की है और बीजेपी से मामले में जल्द कार्रवाही करने को कहा है।

वहीं, मामले में राष्ट्रीय महिला आयोग ने चंडीगढ़ के डीजीपी को नोटिस भेज दिया है।

दूसरी ओर इस मामले में हरियाणा बीजेपी उपाध्यक्ष प्रदेश रामवीर भट्टी का असंवेदनशील बयान सामने आया है। रामवीर भट्टी ने कहा कि, वो लड़की इतनी रात को क्यों घूम रही थी? लड़की को 12 बजे के बाहर नहीं घूमना चाहिए था।

उधर मामले में हरियाणा प्रदेश बीजेपी के अंदर से ही अध्यक्ष सुभाष बराला के खिलाफ आवाजें उठने लगी हैं। कुरुक्षेत्र से बीजेपी सांसद राजकुमार सैनी ने कहा कि, किसी का पीछा करना, हाथ मारकर गाड़ी रोकना या अपहरण की कोशिश करना एक गंभीर मामला है। इसको लेकर सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि, लड़की ने इस मामले में हिम्मत दिखाई है। राजकुमार सैनी ने मामले में सुभाष बराला को इस्तीफा दे देने तक की बात कह दी। उन्होंने कहा कि, विपक्ष के कुछ कहने से पहले ही सुभाष बराला को इस्तीफा दे देना चाहिए।

वहीं, बीजेपी नेता सुब्रमण्यन स्वामी ने भी इस मामले पर ट्वीट किया। उन्होंने लिखा कि, चंडीगढ़ में आईएएस ऑफिसर की बेटी के साथ छेड़छाड़ के मामले में वह कोर्ट में PIL दायर करेंगे।

बता दें, हरियाणा बीजेपी के अध्यक्ष सुभाष बराला के बेटे विकास बराला पर आईएएस अफसर की बेटी से छेड़छाड़ और अपहरण करने के प्रयास के आरोप लगे हैं। घटना उस वक्त हुई जब पीड़ित युवती देर रात करीब 12.35 बजे सेक्टर 9 से पंचकुला की तरफ जा रही थी। लड़की ने आरोप लगाया कि टाटा सफारी में मौजूद दो युवकों ने सेक्टर 26 के मार्केट एरिया से उसका पीछा करना शुरू किया। लड़की ने आरोप लगाया कि आरोपियों ने कई उसकी कार को रोकने की कोशिश की और दूसरे किसी रास्ते पर जाने को मजबूर किया।

वहीं, छेड़छाड़ मामले में चंडीगढ़ पुलिस ने कई बार धाराओं में बदलाव किया। लड़की की शिकायत पर पहले धारा 354 डी और मोटर वेहिकल एक्ट की धारा 185 के तहत मामला दर्ज किया गया लेकिन इसके कुछ ही घंटों बाद धाराएं बदल दी गई। पुलिस ने इसमें 341, 365 और 511 की धाराओं को भी जोड़ दिया गया। धाराओं का फेरबदल इतने में ही नहीं रुका, एक बार और धाराएं बदली गई और इसमें केवल धारा 341 को ही जोड़ा गया। धाराओं के बार-बार बदले जाने पर चंडीगढ़ पुलिस को चारों ओर से निंदा का सामना करना पड़ रहा है।

-ऋषभ अरोड़ा

Leave a Reply

Top