You are here
Home > breaking > पर्यावरण मंत्री हर्षवर्धन ने लोगों से सीधे संवाद के लिए शुरू किया ऐप

पर्यावरण मंत्री हर्षवर्धन ने लोगों से सीधे संवाद के लिए शुरू किया ऐप

केंद्रीय पर्यावरण, विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री डा. हर्षवर्धन ने एक समारोह में लोगों से सीधा संवाद करने के लिए एक मोबाइल एप्लिकेशन (ऐप) की शुरुआत की। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में डिजिटल संपर्क नागरिक और उसके प्रतिनिधि के बीच संपर्क का एक सशक्त सेतु है। डिजिटल संपर्क की इस ताकत को महसूस करते हुए ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डिजिटल इंडिया अभियान की शुरुआत की थी। बाद में उन्होंने अपना एक ऐप- नरेंद्र मोदी ऐप जारी किया। प्रधानमंत्री से प्रेरणा लेते हुए ही उन्होंने डिजिटल संपर्क के जरिए जनता से और प्रभावी ढंग से संवाद स्थापित करने के उद्देश्य से इस ऐप की परिकल्पना की। वास्तव में लोकतंत्र का सार इसी में निहित है कि जनता अपने प्रतिनिधियों से सीधे संपर्क स्थापित कर सके।

उनके मुताबिक यह दोतरफा संवाद की सुविधा मुहैया कराता है। जनता अपनी समस्याओं, सुझावों और अपनी प्रतिक्रियाओं से तुरंत मुझे अवगत करा सकती है। नागरिकों की उम्मीदों को पूरा करने के उद्देश्य से मैंने सुझावों और शिकायतों पर तुरंत कार्रवाई के लिए एक निवारण प्रणाली विकसित की है। जनता की आवाज के जरिए लोगों को अपनी बात रखने के लिए एक खुला मंच प्रदान किया गया है। लोग अपनी समस्या का वीडियो बनाकर या फोटो खींच कर इस ऐप के माध्यम से सीधे मुझे भेज सकते हैं। यह लोकतंत्र को सशक्त बनाने का उपयोगी माध्यम साबित हो सकता है। उनके मंत्रालयों की गतिविधियों से संबंधित खबरें भी इसमें दी जा रही है। उनके बारे में पूरी जानकारी ऐप में है।

उन्होंने बताया कि पर्यावरण की रक्षा के लिए जन आंदोलन विकसित करने के उद्देश्य से ही ग्रीन गुड डीड्स की एक सूची तैयार की गई है। ग्रीन गुड डीड्स के तहत सूचीबद्ध छोटे-छोटे प्रयासों के जरिए बड़ा बदलाव लाया जा सकता है। उदाहरण के तौर पर प्लास्टिक बैग की जगह कपड़े की थैलियों का उपयोग करें, अपने आस-पास ज्यादा से ज्यादा पौधे लगाएं, बिजली बचाना और जल का सही और संतुलित उपयोग आदि।

प्रधानमंत्री और डॉ. हर्षवर्धन के मंत्रालय से जुड़े कार्यक्रमों का सीधा प्रसारण भी इस एप पर देखा जा सकेगा। भाजपा के महत्वपूर्ण कार्यक्रमों का भी इससे सीधा प्रसारण होगा। मंत्री के आवास पर एक प्रदर्शनी भी लगाई गई है जिसमें उनके मंत्रालय से जुड़ी गतिविधियों और नए अनुसंधान की जानकारी दी गई है।

Leave a Reply

Top