You are here
Home > breaking > GST से बिगड़ी Flipkart की चाल

GST से बिगड़ी Flipkart की चाल

ऑनलाइन रिटेल कंपनी फ्लिपकार्ट अब अपने ऑफलाइन स्टोर खोलने की भी तैयारी कर रही है। इस साल मिंत्रा और अर्बन लैडर के बाद यह तीसरी ऐसी कंपनी होगी जो बाकायदा दुकान खोलकर अपना कारोबार करेगी। फ्लिपकार्ट के इन स्टोर पर विदेशी ब्रांड्स का सामान ही मिलेगा। जीएसटी के लागू होने के बाद कंपनी को उतना मुनाफा नहीं हो रहा है, जिसके चलते उसने यह कदम उठाया है।

फ्रेंचाइजी स्टोर खोलने का प्लान
फ्लिपकार्ट अपने स्टोर खोलने के बजाए मास्टर फ्रेंचाइजी बनेगा और जो लोग कंपनी का स्टोर खोलना चाहते हैं, उन्हें पूरा इन्वेस्टमेंटअपना करना होगा। कंपनी केवल अपना ब्रांड नेम प्रयोग करने की अनुमति देगी।

फिलहाल कंपनी हांगकांग की कंपनी गिओर्डानो से इस तरह का स्टोर खोलने के लिए बात कर रही है। फ्लिपकार्ट इस कंपनी केसभी प्रोडक्ट ऑफलाइन और ऑनलाइन बेचेगी। इकोनॉमिक टाइम्स के अनुसार, फ्लिपकार्ट ई-कॉमर्स स्पेस में ग्रोथ न होते देख इस तरह का स्टोर खोलने का प्लान कर रही है।

जीएसटी के लागू होने के बाद अब डिस्काउंट भी नहीं मिल रहा है। ज्यादातर लोग आज भी दुकानों से सीधे खरीदने पर ज्यादा विश्वास करते हैं। ऑनलाइन सामान खरीदने में केवल बड़े शहरों में रहने वाले लोग ही हैं, जिनके पास समय का आभाव रहता है।

ऑफलाइन स्टोर इन कंपनियों के भी है
इससे पहले जिन कंपनियों ने पहले वेबसाइट खोली हैं और बाद में दुकाने उनमें पेपरफ्राई, लेंसकार्ट, नाइका शामिल हैं। इससे पहले देश की सबसे बड़ी ऑनलाइन फैशन रिटेलर कंपनी मिंत्रा ने मैंगो ब्रांड की लोकल फ्रेंचाइजी ली थी।

– साक्षी दीक्षित

Leave a Reply

Top