You are here
Home > breaking > सरकार राम मंदिर पर अध्यादेश लाए : इंद्रेश

सरकार राम मंदिर पर अध्यादेश लाए : इंद्रेश

आज राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की स्थापना दिवस और विजयादशमी पर आयोजित शस्त्र पूजन के कार्यक्रम में बोलते हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय कार्यकारिणी के सदस्य माननीय श्री इंद्रेश जी ने भारत सरकार से मांग की कि जिस प्रकार 8:30 करोड़ मुस्लिम बहनों को अध्यादेश के माध्यम से तलाक जैसे अभिशप्त जीवन से मुक्ति का मार्ग प्रशस्त किया है ऐसे ही सरकार को अध्यादेश लाकर राम मंदिर के भव्य निर्माण का मार्ग भी प्रशस्त करना चाहिए ।
स्वयंसेवकों की विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए श्री इंद्रेश जी ने कहा कि जिस दिन भारत में कन्या के जन्म पर ढोल बजेंगे उस दिन स्वीकार होगा कि बेटा बेटी एक समान है, कन्या भ्रूण हत्या की आलोचक करते हुए उन्होंने कहा महिषासुर मर्दिनी कैसे पैदा होगी ?
उन्होंने स्पष्ट किया कि पेट्रोल के दाम बढ़ने पर भी अर्थव्यवस्था में कोई चीज महंगी नहीं हुई।
उन्होंने कहा जिसका जन्म होता है , उसकी मृत्यु भी निश्चित है ।इसी प्रकार पाकिस्तान और बांग्लादेश के जन्म की तिथि तय है, तो उसका अंत भी तय है ।वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए उन्होंने संकेत किया कि जल्दी ही पाकिस्तान 7 टुकड़ों में बट जाएगा।
विशाल जनसभा में हजारों की संख्या में क्षेत्र के गणमान्य लोगों ने हिस्सा लिया । इस विशाल सभा को संबोधित करते हुए श्री इंदेश जी ने कहा, छुआछूत एक अभिशाप है ।हमारे यहां तो गरीब दरिद्र सुदामा को निवाने के लिए कृष्ण महल से बाहर जाते हैं ,भगवान राम केवट की नाव में बैठकर गंगा पार करते हैं, शबरी के मीठे बेर खाने वाले राम हमारे आदर्श है।
अपने पिता तुल्य मानकर जटायु का संस्कार भगवान राम अपने हाथों से करते हैं ।उन्होंने समाज का आह्वान किया केवल बाहर बैठकर संघ को मत देखें संघ में आकर संघ का मूल्यांकन करें और हमारे सहयोगी बने राष्ट्र के इस पुनीत हवन में कुछ समिधा समाज भी डालें ,केवल सरकारों पर निर्भर होकर राष्ट्रों का निर्माण नहीं होता ।श्री इंद्रेश जी और जिला के माननीय जिला संघचालक श्री सुशील जी , जिला कार्यवाह श्री दिनेश जी इत्यादि वरिष्ठ कार्यकर्ताओं ने पुष्पों के द्वारा शस्त्र पूजन किया।

Leave a Reply

Top