You are here
Home > NEWS > आधुनिक रूप से आगे व पर्यावरण संरक्षण के मामले में पीछे जा रहे हैं हम : स्वामी सहजानंद नाथ

आधुनिक रूप से आगे व पर्यावरण संरक्षण के मामले में पीछे जा रहे हैं हम : स्वामी सहजानंद नाथ

हिसार, 13 जुलाई | हिसार की पुलिस अधीक्षक मनीषा चौधरी ने आज एसपी ऑफिस कार्यालय परिसर में दो त्रिवेणियां लगाकर पर्यावरण संरक्षण में अपना योगदान दिया व आम लोगों को पर्यावरण का संदेश दिया। उन्होंने पर्यावरण संरक्षण के अभियान के तहत आज मिशन ग्रीन फाऊंडेशन द्वारा पुलिस विभाग के साथ मिलकर किए जा रहे पौधारोपण अभियान के तहत त्रिवेणी के पौधे लगाए।

इस अवसर पर एसपी मनीषा चौधरी ने मिशन ग्रीन फाऊंंडेशन के कार्य की सराहना करते हुए कहा कि अब पुलिस विभाग भी उनकी इस मुहिम के साथ जुडक़र पर्यावरण अपना योगदान देगा। अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि आज के आधुनिकता के दौर में किसी के पास पर्यावरण या प्रकृति के प्रति सोचने का समय नहीं है जबकि यह सबसे अहम विषय है क्योंकि दिन-प्रतिदिन हमारी पृथ्वी का बढ़ता तापमान हमें चेतावनी दे रहा है कि यदि हम समय पर नहीं जागे तो आने वाला समय विनाशकारी होगा। इसलिए पर्यावरण के प्रति सचेत होना बेहद जरूरी है। उन्होंने कहा कि इसके लिए हमें उन पहलुओं पर जोर देना होगा जो पर्यावरण को बचाने में अपनी अहम भूमिका अदा कर रहे हैं इसमें अधिक से अधिक पेड़ लगाना सबसे महत्वपूर्ण है। हम पर्यावरण को ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाकर बचा सकते हैं। उन्होंने कहा कि मिशन ग्रीन फाऊंडेशन इस दिशा में सराहनीय कार्य कर रही है पुलिस प्रशासन उनके इस अभियान में पूरा सहयोग करेगा।


इस अवसर पर स्वामी सहजानंद नाथ ने एसपी मनीषा चौधरी का धन्यवाद प्रकट करते हुए कहा कि वे हिसार की जनता की रक्षा की जिम्मेवारी को तो बखूबी निभा ही रहीं है साथ ही पर्यावरण के प्रति अपने दायित्व को भी निभा रही हैं जिसके लिए वे साधुवाद की पात्र हैं। यदि वरिष्ठ अधिकारी पर्यावरण के प्रति गंभीर होंगे तो उनसे प्रेरणा पाकर शहर की आम जनता भी इस ओर जागरुक होगी।

स्वामी सहजानंद नाथ ने मिशन ग्रीन फाऊंडेशन के कार्यों व उद्देश्यों के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि पर्यावरण को हरा-भरा बनाना व अधिक से अधिक से लोगों को पर्यावरण संरक्षण से जोडऩा हमारा मिशन है। इसके लिए व्यापक रूप से जागरुकता अभियान चलाया जा रहा है जिसके तहत लोगों को घर-घर जाकर पर्यावरण के प्रति जागरुक करने के साथ-साथ, शहर के सभी स्कूलों में बच्चों को जागरुक किया जा रहा है। इसके लिए अधिक से अधिक लोगों को पौधे लगाने व पॉलिथीन का प्रयोग नहीं करने बारे जागरुक किया जा रहा है। आज आधुनिक रूप से तो हम काफी आगे निकल चुके हैं लेकिन प्राकृतिक संसाधनो व पर्यावरण संरक्षण के मामले में पीछे जा रहे हैं जिसका मुख्य कारण पर्यावरण के प्रति हमारी उदासीनता है। उन्होंने कहा कि केवल पौधा रोपित कर ही हमें अपने दायित्व की इतिश्री नहीं कर लेनी चाहिए बल्कि उसे पाल-पोस कर पूरा पेड़ बनाने तक उसका ख्याल रखना होगा तभी हमारा मिशन सार्थक होगा। उन्होंने बताया कि किस प्रकार एक पेड़ 50 वर्षों तक हमारे कितने काम आता है। उन्होंने सभी लोगों से आह्वान किया कि वे एक या दो पौधे व गमले गोद लेकर पर्यावरण की इस मुहिम से जुड़ें। वहीं उन्होंने कहा कि शहर में विभिन्न स्थानों पर फाऊंडेशन की ओर से बड़े-बड़े गमलों में त्रिवेणियां लगाई जाएंगी जिनके बड़ा होने पर उन्हें किसी अन्य स्थान पर रोपित किया जाएगा। इस मौके पर पुलिस के विभिन्न वरिष्ठ अधिकारियों सहित मिशन ग्रीन फाऊंडेशन की टीम के लगभग 70 सदस्य मौजूद रहे।

Leave a Reply

Top