You are here
Home > breaking > केजरीवाल ने दिल्ली मेट्रो के इस फैसले को बताया जनविरोधी

केजरीवाल ने दिल्ली मेट्रो के इस फैसले को बताया जनविरोधी

दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) ने तीन अक्टूबर से किराया बढ़ाने की तैयारी कर ली है. डीएमआरसी के इस फैसले से दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल भड़क गए हैं. उन्होंने डीएमआरसी के इस फैसले पर ऐतराज जताया है.

केजरीवाल ने गुरुवार की सुबह दिल्ली मेट्रो के किरायों मे होने वाली बढ़ोतरी पर नाराज़गी जताते हुए ट्वीट किया. उन्होंने ट्विटर पर लिखा कि,

“मेट्रो के किराए में बढ़ोतरी जनविरोधी है. मैने परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत को एक सप्ताह के भीतर इस किराया वृद्धि को रोकने का उपाय निकालने को कहा है”

दरअसल दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन में केंद्र सरकार और दिल्ली सरकार 50-50 की पार्टनर हैं. ऐसे में सूत्र बता रहे हैं कि दिल्ली सरकार DMRC के चेयरमैन मंगू सिंह को तलब भी कर सकती है क्योंकि मेट्रो ने दिल्ली सरकार को भरोसे में लिए बिना ये किराया बढ़ाने का फैसला किया.

अभी तक मेट्रो में सफर करने के लिए कम से कम किराया 10 रुपए और अधिकतम किराया 50 रुपए देने पड़ते हैं. ये बढोतरी इस साल मई में ही की गई थी. डीएमआरसी के नये प्रस्ताव के मुताबिक, 2 किमी तक के लिए 10 रुपये, 2 से 5 तक के लिए 15 की जगह 20 रुपये, 5 से 12 तक के लिए 20 की जगह 30 रुपये, 12 से 21 तक के लिए 30 की जगह 40 रुपये. 21 से 32 तक के लिए 40 की जगह 50 रुपये और 32 किमी से अधिक के सफर के लिए 50 की जगह 60 रुपये देने होंगे.

गौरतलब है कि मई 2017 में किराया बढ़ाने के बाद मेट्रो में सफर करने वाले लोगों की संख्या में अच्छी-खासी कमी देखी गई है. एक अनुमान के मुताबिक मेट्रो में प्रतिदिन डेढ़ लाख यात्रियों की संख्या घटी है.

Leave a Reply

Top