You are here
Home > NEWS > ‘देहदान’ के बाद अब दधीचि देहदान समिति करायेगी ‘केश दान’

‘देहदान’ के बाद अब दधीचि देहदान समिति करायेगी ‘केश दान’

बहुत वर्षों से  समाज में लोगों को अंगदान और देहदान के लिए प्रेरित कर रही  दधीचि देहदान समिति ने कैंसर पीड़ितों के लिए अनोखे अभियान की शुरूआत की। कड़कड़डूमा में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के ईस्ट दिल्ली ब्रांच के ऑडिटोरियम में आयोजित कार्यक्रम में तीन स्कूली छात्राओं ने 12 इंच की लंबाई तक अपने बाल कटवाकर दान कर दिए। इन बालों से विग बनाकर कैंसर पीड़ित महिलाओं को दी जाएगी।

इस मौके पर दिल्ली की तीन स्कूली छात्राएं श्रेया, एंजल और मीरा ने अपनी दादी की याद में केश दान कर मिसाल कायम की है। इनकी दादी की मृत्यु कैंसर से हुई थी। दधीचि देह दान समिति के अध्यक्ष आलोक कुमार ने बताया कि कीमोथेरेपी के कारण जिन महिलाओं के बाल झड़ जाते हैं, उनमें आत्मविश्वास की कमी देखी जाती है। इसअभियान के माध्यम से लोगों को जागरूक किया जायेगा कि वो अपने केश दान करें जिससे तैय्यार विग कैंसर पीड़ित महिलाओं को दी जा सकें।

कैंसर पीड़ितों के इलाज के लिए जब कीमोथेरेपी की जाती है तो मरीज के बाल झड़ जाते हैं। ऐसे मरीजों को समाज में लोग अजीब निगाह से देखते हैं। लोगों के रवैये से कैंसर पीड़ितों का दुख और बढ़ जाता है। उन्होंने कहा कि केश दान के लिए लोगों में जागरूकता होने से कैंसर पीड़ितों की ¨ज़िदगी में उम्मीद जग रही है। उन्होंने कहा कि केश दान में कई संस्थाएं लगी हुई हैं लेकिन समिति द्वारा लोगों को जागरूक करने का कार्य किया जाएगा।

कैंसर अभियान से जुड़े वह कार्यक्रम के मुख्य अतिथि नवदीप रिनवा ने उपस्थित लोगों को बताया अब रक्त के साथ साथ केश दान का भी महत्व बढने लगा है। उन मरीजों के लिए केश दान वरदान है जो इलाज के दौरान बाल गंवा देने से हताश हो जाते हैं। केश विशेषज्ञ व लुक्स सैलून के निदेशक संजय दत्ता ने बताया कि इस केश दान की प्रक्रिया में दानकर्ता को कम से कम 12 इंच लंबे बाल दान करने होते है। इन बालों से हम कैंसर पीड़ितों के लिए विग तैयार करते हैं। केश दान करने से किसी भी प्रकार की शारीरिक हानि नही होती है। तीन चार महीने में बाल फिर से पहले जितने बड़े हो जाते हैं। इस अवसर पर इंडियन मेडिकल एसोसिएशन पूर्वी दिल्ली की अध्यक्ष डॉ. नीलिमा लेखी ने बताया कि चिकित्सा जगत के लिए भी केश दान बहुत ही महत्वपूर्ण साबित होगा। इस अवसर पर पूर्व महापौर हर्षदीप मल्होत्रा, महेश पंत, सुधीर गुप्ता, वीके शर्मा और डॉ. वीके मोंगा मौजूद थे।

 

 

Leave a Reply

Top