You are here
Home > HOME > हमारी लड़ाई चीन की जनता से नही, उसकी सरकार से है-अरूण ओझा

हमारी लड़ाई चीन की जनता से नही, उसकी सरकार से है-अरूण ओझा

हमारी लड़ाई चीन की जनता से नही, उसकी सरकार से है-अरूण ओझा

बोल बिंदास दिल्ली- स्वदेशी जागरण मंच के राष्ट्रीय संयोजक अरूण ओझा ने दिल्ली में स्वदेशी जागरण मंच के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि स्वदेशी जागरण मंच की लड़ाई चीन की जनता से नही है। उनकी लड़ाई चीन की सरकार से है जो अपने संसाधनो का उपयोग विश्व में अपना वर्चस्व फैलाने के लिए कर रही है। उन्होंने कहा कि आज चीन पाकिस्तान को प्रोत्साहित कर रहा है जिसके कारण पाकिस्तान भारत के विरुद्ध आतंकवादी गतिविधियों को बढ़ावा दे रहा है। चीन भारत की सीमाओं पर अनावश्यक विवाद खड़ा कर रहा है। उसके सैनिक जानबूझ कर ऐसी हरकते कर रहें हैं जिससे उत्तेजित होकर भारतीय सैनिक उसके खिलाफ कारवाई करें और वो युद्ध छेड़ सके। अरूण ओझा जी ने कहा भारत ने हमेशा शांति से काम लिया है। उसने कभी किसी पर आक्रमण नही किया। लेकिन इसका अर्थ ये नही कि उसके सैनिकों में क्षमता नही, वो किसी से डरते हैं। 1962 की लड़ाई हमारे सैनिक नही हारे थे। हारे थे हमारे नेता जो आंख मूंदकर चीन पर भरोसा करते थे। 1965 में हमारे वीर सैनिकों पर उसने एक बार फिर धोखे से आक्रमण किया लेकिन इस बार उसको मुंह की खानी पड़ी।

उन्होंने कहा आज देश एक बार फिर चीन की गलत हरकतों का सामना कर रहा है। हमारे वीर जवान सीमा पर मोर्चा संभाले हुए हैं लेकिन आज देश की जनता चाहे तो चीन पर बिना एक गोली चलाये उसको पराजित कर सकती है। बस चीन में बनी वस्तुओं का बहिष्कार उसे करना है। जिस दिन इस देश की जनता ने संकल्प लिया की वो चीन में बनी वस्तुओं का प्रयोग नही करेगी उसी दिन चीन की आर्थिक मोर्चे पर करारी हार होगी। उन्होंने यह भी कहा हम हर उस व्यक्ति की लड़ाई लड़ रहें हैं जो चीन की गलत नीतियों का शिकार है।
उन्होंने कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि आनी वाली 29 अक्तूबर को दिल्ली में होने वाली राष्ट्रीय सुरक्षा रैली को सफल बनाने के लिए तन मन और धन से जुट जायें। इस रैली में देश भर से 1 लाख से अधिक लोग आने वाले है। दिल्ली से भी इतने ही लोग उनके साथ जुड़ने चाहिए।

इस सम्मेलन में रामनगर के नगर सेवक परवेश शर्मा ने भी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया और उन्होंने स्वदेशी के कार्यकर्ताओं की मांग पर ये आश्वासन दिया कि वो अपने वार्ड को चीनी वस्तुओं से मुक्त बनाने का कार्य शुरू करेंगे।

दिल्ली प्रांत के संयोजक सुशील पांचाल ने अरूण ओझा जी को ये विश्वास दिलाया कि दिल्ली में स्वदेशी के कार्यकर्ता घर घर जाकर लोगों को इस आंदोलन के प्रति जागरूक करेंगे और दिल्ली के प्रत्येक विभाग से कम से कम 3 हजार कार्यकर्ता इस रैली मे शामिल होंगे जिससे 1 लाख से अधिक संख्या केवल दिल्ली के कार्यकर्ताओं की होगी।


कार्यक्रम में यमुना विहार विभाग के संयोजक मनोज गुप्ता के साथ, दीपक त्यागी, ताराचंद,अनुराग गुप्ता, संजय कौशिक, गीता गोस्वामी,राजेश वर्मा, प्रदीप चौधरी आदि के साथ क्षेत्र के अनेक गणमान्य व्यक्ति भी मौजूद थे।

Leave a Reply

Top