You are here
Home > HOME > भोजपुरी समाज दिल्ली द्वारा मनोज तिवारी का सम्मान

भोजपुरी समाज दिल्ली द्वारा मनोज तिवारी का सम्मान

बोल बिंदास दिल्ली
पूर्वांचल की माटी ऊर्वर माटी है। पूर्वांचल के लोग दिल्ली क्या, कहीं भी अपनी मेहनत से मिट्टी को सोना बना देते हैं। आज निश्चित ही दिल्ली की पूर्वांचली जनता के लिए गर्व की बात है कि हमें बड़ी संख्या में राजनीतिक प्रतिनिधित्व मिला है। आज जब हमें जनाधिकार मिला है तो इस स्थिति में हमारा कर्तव्य और बढ़ जाता है। – उपर्युक्त बातें इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में भोजपुरी समाज दिल्ली द्वारा सम्मान समारोह अवसर पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि, सांसद एवं दिल्ली के भाजपा अध्यक्ष श्री मनोज तिवारी ने कही। उन्होंने अपने वक्तव्य में पूर्वांचलियों को कर्मठता का प्रतीक बताया। उन्होंने मॉरीशस की एक संस्मरण का जिक्र करते हुए बताया कि पूर्वांचल के लोग दिल्ली क्या, कहीं भी अपनी मेहनत से मिट्टी को सोना बना देते हैं। उन्होंने पार्टी द्वारा दी गई अपनी जिम्मेदारियों और जनता द्वारा दिए गए प्रेम का जिक्र करते हुए जनता के प्रति आभार व्यक्त किया। भोजपुरी समाज द्वारा किये जा रहे भाषा के विकास के साथ-साथ समाज को जोड़ने के प्रयासों के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया।
रविवार, दिनांक 25 जून को इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में भोजपुरी समाज, दिल्ली द्वारा सांसद एवं दिल्ली के भाजपा अध्यक्ष श्री मनोज तिवारी एवं नवनिर्वाचित पूर्वांचली पार्षदों के अभिनन्दन का आयोजन किया गया था। उक्त कार्यक्रम में भोजपुरी समाज, दिल्ली के अध्यक्ष श्री अजीत दुबे ने अपने बीज वक्तव्य में आगंतुकों के प्रति सभी पूर्वांचलियों की ओर से शुभकामना व्यक्त किया। उन्होंने अपने अनुभव को व्यक्त करते हुए बताया पहले पूर्वांचलियों को बड़ी हेय दृष्टि से देखा जाता था। राजनीतिक पकड़ तो दूर, हमें तो सामाजिक मान्यता भी नहीं मिली थी, आज मनोज तिवारी जी की कर्मठता है कि हम इक्कीस नवनिर्वाचित पूर्वांचली पार्षदों के अभिनन्दन के लिए एकत्रित हुए हैं। मुझे पूर्ण विश्वास है कि मनोज तिवारी जी की कर्मठता से अगली बार 50 से अधिक पार्षदों का अभिनन्दन करेंगे। उन्होंने दिल्ली में पूर्वांचलियों की इस जीत को कर्मठता की जीत बताते हुए कहा कि यह हमारे लिए गौरव की बात तो है ही, हमारे लिए उत्सव की भी बात है। यह कार्यक्रम उसी उत्सव का एक छोटा सा हिस्सा है। ईश्वर चाहेंगे तो शीघ्र ही हम एक उत्सव तालकटोरा में भी मनाएंगे।
कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे वरिष्ठ पत्रकार और सशक्त व्यक्तित्व के धनी श्री राम बहादूर राय जी ने अपने आंदोलन के समय को याद करते हुए बताया कि उन्होंने दिल्ली में बहुत मौका परस्त राजनीति को देखा है। मनोज जी की कर्मठता, ईमानदारी और मेहनत को देखते हुए यह सहज ही कहा जा सकता है कि वह दिन दूर नहीं, जब ये पूरे प्रदेश का नेतृत्व करेंगे।
उक्त सम्मान समारोह में नवनिर्वाचित सभी पूर्वांचली पार्षदों का अभिनन्दन पुष्प-गुच्छ देकर व सम्मान का प्रतिक शॉल ओढ़ाकर किया गया। कार्यक्रम के उसी क्रम में साहित्यकार केशव मोहन पाण्डेय की सद्यः प्रकाशित भोजपुरी कविताओं की पुस्तक ‘जिनगी रोटी ना हs’ का विमोचन भी मंचासीन अतिथियों द्वारा किया गया।

उक्त कार्यक्रम में अन्य अतिथि के रूप में भोजपुरी गायक भरत शर्मा व्यास, भारत सरकार के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी, प्रोफेशनल्स, समाजसेवी, मीडियाकर्मी, रंगकर्मी, साहित्यकार आदि गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन समाज के वरिष्ठ उपाध्यक्ष प्रभु नाथ पाण्डेय ने किया।

Leave a Reply

Top