You are here
Home > NEWS > अमित शाह – जबरदस्त जीतेंगे 2019

अमित शाह – जबरदस्त जीतेंगे 2019

आगामी विधानसभा चुनावों के साथ 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव का खाका तैयार करने के लिए आयोजित बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि 2019 में पार्टी पिछली बार से भी बड़ी जीत हासिल करेगी. वहीं उन्होंने केरल और पश्चिम बंगाल में हुई राजनीतिक हिंसा की भी निंदा की.

पीयूष गोयल ने कार्यकारिणी बैठक के बारे मीडिया को बताते हुए कहा, ‘केरल और बंगाल में हुई राजनीतिक हिंसा की निंदा करते हुए अमित शाह ने कहा कि हिंसा से बिजेपी का कार्यकर्ता डरने वाला नहीं. राष्ट्रीय कार्यकारिणी में अमित शाह ने कहा कि हिंसा का कीचड़ कोई कितना भी फैलाए, भाजपा का कमल उतना ही ज़्यादा निखार के आएगा. इसके साथ ही बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि पार्टी कार्यकर्ता 3-17 अक्टूबर तक केरल में पदयात्रा करेंगे.’

अमित शाह ने इस बैठक में कहा, ‘देखते जाइए, 2019 की जीत पहले से भी बड़ी होगी. उन्होंने कहा कि भारत का हर नागरिक चाहता है कि देश गंदगी, गरीबी, तुष्टीकरण की राजनीति आदि से मुक्त हो.’ पीयूष गोयल ने अमित शाह के हवाले से बताया, ‘पीएम मोदी की जनकल्याण योजनाओं की वजह से भारत ही नहीं दुनिया में भारत का सम्मान बढ़ा है. सरकार की विभन्न जनकल्याण योजनाओं की बदौलत लोग खुद को सुरक्षित महसूस कर रहा है. हमने दो करोड़ महिलाओं का मुफ्त एलपीजी कनेक्शन दिया. 7.5 करोड़ लोगों का मुद्रा योजना का लाभ मिल रहा है. हम न्यू इंडिया के मॉडल पर काम कर रहे हैं, जहां गरीबी हटाने, युवाओं को रोजगार मुहैया कराने पर जोर होगा.’

वहीं राहुल गांधी पर प्रहार करते हुए अमित शाह ने कहा कि वह भारत की गरिमा को धूमिल कर हैं. वंशवाद कांग्रेस की संस्कृति है. अमित शाह ने कहा, ‘राहुल गांधी जिस तरह की तुष्टिकरण की राजनीति करते हैं, उसे देश की जनता नकारती है. भाजपा पॉलिटिक्स ऑफ परफॉर्मेन्स पर विश्वास करती है. राजनीति ऐसी होनी चाहिए जिसमे सबकी चिंता होनी चाहिए.’

राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के दूसरे दिन पीएम नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह,  गृहमंत्री राजनाथ सिंह, लाल कृष्ण आडवानी समेत तमाम वरिष्ठ नेता बैठक में पहुंचे.

बताया जा रहा है कि पीएम मोदी कार्यक्रम के अंत में बैठक को संबोधित करेंगे. जिसमें मोदी सरकार की उपलब्धियां सरकार द्वारा किए गए काम और आगे की दशा-दिशा तय होगी.

बैठक में आर्थिक और राजनीतिक प्रस्ताव पारित किए जाएंगे. आर्थिक प्रस्ताव में नोटबंदी और जीएसटी का खास तौर से जिक्र होगा कि किस ढंग से जीएसटी और नोटबंदी के चलते देश की जनता को फायदा हुआ है.

बैठक के अंत में शाम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पार्टी नेताओं को संबोधित करेंगे. जिसमें साफ तौर से मोदी सरकार की नीतियां उनके काम जनता तक पहुंचाने की बात तो करेंगे ही साथ ही आगे का रोड मैप नेताओं को बताएंगे.

Leave a Reply

Top