You are here
Home > breaking > अमरनाथ यात्रा पर आतंकी हमला, सात लोगों की मौत

अमरनाथ यात्रा पर आतंकी हमला, सात लोगों की मौत

जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में अमरनाथ यात्रियों की बस पर सोमवार रात  हुए आतंकी हमले में 7 यात्रियों की मौत हो गई है और 19 से ज्यादा घायल हो गए हैं।  कश्मीर के अनंतनाग में अमरनाथ यात्रियों पर हुए आतंकी हमले के बाद जम्मू और आसपास के क्षेत्रों में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। अमरनाथ यात्रा के आधार शिविर भगवती नगर समेत शहर के अन्य स्थानों जहां यात्री ठहरे हुए हैं कि सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

वहीं, जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर भी सुरक्षा को कड़ा कर दिया गया है। पुलिस के अलावा सेना व सीआरपीएफ के जवानों ने औचक नाका लगाकर वाहनों की तलाशी लेनी शुरू कर दी है। एसएसपी जम्मू सुनील गुप्ता ने बताया कि अमरनाथ यात्रा के चलते जम्मू में सुरक्षा के पर्याप्त बंदोबस्त किए गए है। सभी सुरक्षा एजेंसियां मिलकर सुरक्षा को पुख्ता कर रही है।

कश्मीर में हुए आतंकी हमले के बाद सभी सुरक्षा एजेंसियों के अधिकारियों ने बैठक कर सुरक्षा बंदोबस्त का जायजा लिया है। जिन स्थानों पर सुरक्षा को और मजबूत करने की जरूरत है वहां और मजबूत किया गया है। शहर में प्रवेश करने वाले तवी पुल को सुरक्षाबलों ने सील कर वहां आने वाले वाहनों की तलाशी लेनी शुरू कर दी। पुलिस कर्मियों के साथ इस दौरान सीआरपीएफ के जवान भी तैनात थे।

इसी प्रकार गुज्जर नगर पुल तथा सिदड़ा पुल को भी सुरक्षा कारणों से सील कर दिया गया। वाहन में सवार लोगों के पहचान पत्रों की जांच की जा रही है। शहर के धार्मिक स्थलों में भी सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त कर दिए गए है। रघुनाथ मंदिर, श्री रणवीरेश्वर मंदिर, काली माता मंदिर बागे बाहु तथा प्रचीन राम मंदिर यहां साधु ठहरे हुए है में अतिरिक्त जवानों को तैनात किया गया है।

 राजनाथ सिंह ने बुलाई आपात बैठक

कश्मीर के आईजी मुनीर खान ने कहा कि अमरनाथ यात्रियों पर लश्कर द्वारा किए गए हमले का मास्टरमाइंड पाकिस्तानी आतंकी इस्माइल है। इसके साथ ही पूरे देश भर में सुरक्षा एजेंसियों को हाई अलर्ट कर दिया गया है। सभी उच्च स्तरीय अधिकारी सुरक्षा हालात की समीक्षा में करने में जुटे  हुए हैं। यूपी में कांवड़ यात्रा पर निकलने वाले श्रद्धालुओं की सुरक्षा चाक-चौबंद करने के आदेश दिए गए हैं।

अमरनाथ यात्रियों आतंकी हमले के बाद गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार सुबह गृह मंत्रालय के अधिकारियों की आपात बैठक बुलाई है। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल इस बैठक की अध्यक्षता करेंगे। इस अहम बैठक में शामिल होने के लिए एनएसए, सीआरपीएफ, आईबी, RAW और सुरक्षा एजेंसियों के प्रमुख पहुंच गए हैं। बैठक में गृह मंत्री अधिकारियों के साथ अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा से जुड़े सभी इंतजामों की एक बार फिर समीक्षा की जाएगी।

कश्मीर के आईजी मुनीर खान ने कहा कि अमरनाथ यात्रियों पर लश्कर द्वारा किए गए हमले का मास्टरमाइंड पाकिस्तानी आतंकी इस्माइल है। उन्होंने कहा कि आतंकियों का निशाना यात्री बस नहीं थी। उन्होंने वहां से गुजर रहे पुलिस वाहन पर हमला किया था। इसी दौरान बस भी गोलीबारी की चपेट में आ गई। पांच पुलिसकर्मियों समेत 17 जख्मी लोगों को पास के अस्पताल में भर्ती करवाया है। उनकी हालत गंभीर बताई गई है। एहतियात के तौर पर जम्मू-श्रीनगर हाईवे को बंद कर दिया है।

सूत्रों के अनुसार बाइक पर तीन आतंकी सवार थे। इनमें से एक की पहचान इस्माइल के रूप में हुई है। हमले की शिकार बस 2 जुलाई को वलसाड से निकली थी। बस में यात्रियों के साथ इसके मालिक हर्ष भी शामिल थे। बस में सभी श्रद्धालु गुजरात के हिम्मतनगर के बताए गए हैं। मृतकों में पांच महिलाएं और दो पुरुष श्रद्धालु शामिल हैं।

संवाददाता, ऋषभ अरोड़ा

Leave a Reply

Top