You are here
Home > NEWS > जेएनयू का प्रोडक्ट, माओवादियों का अंतररार्ष्ट्रीय टॉप ऑपेरेटिव रोना विल्सन गिरफ्तार।

जेएनयू का प्रोडक्ट, माओवादियों का अंतररार्ष्ट्रीय टॉप ऑपेरेटिव रोना विल्सन गिरफ्तार।

आज प्रातः 5 बजे इसकी गिरफ्तारी मुनिरका डीडीए फ्लैट्स से हुई। जीएन साईं बाबा की गिरफ्तारी के उपरांत माओवाद का सारा काम सम्हाल रहा था जेनएयू का विद्यार्थी रहा केरल निवासी रोना विल्सन। रोना विल्सन ही माओवादियों की ट्रांसफर, पोस्टिंग, हथियार सप्लाय से लेकर धन की व्यस्था, आईडीयोलॉजिकल सपोर्ट, ट्रेनिंग के साथ साथ प्रोपेगेंडा और नैरेटिव्स को चलाने का काम करता था। यही रोना विल्सन जेएनयू के प्रतिबंधित छात्र संगठन डीएसयू का नेता था। जेनएयू के आजादी गैंग का सुप्रीम बॉस था यह रोना विल्सन।
अर्बन माओइस्ट फ्रंट को भी यही रोना विल्सन चलाता था। शहरी माओवाद का पूरा संचालन इसके ही हाथ में था। रोना विल्सन संसद हमले का अभियुक्त रहा प्रोफेसर गिलानी का भी निकट सहयोगी रहा है।
पुणे पुलिस ने विगत 19 अप्रैल को रोना विल्सन समेत 14 संदिग्ध माओवादियों के घर पर छापा मारकर उनके लैपटॉप, पेन ड्राइव,हार्ड डिस्क, मेमरी कार्ड, मोबाईल फोन इत्यादि सारे इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स जब्त कर लिया था। उन सबसे मिली जानकारी हिला देने वाली थी। उससे प्राप्त अनेकानेक सबूत जो पर्याप्त आधार थे गिरफ्तारी के लिए, उनके आधार पर पुणे पुलिस ने यह गिरफ्तारी की है।
इसके साथ आधिवक्ता सुरेंद्र गाडगिल एवं प्रोफेसर सोमा सेन दोनो नागपुर से तथा सुधिर धावले को मुम्बई से एक ही समय में गिरफ्तार किया गया है। ये सब रोना के सहयोगी थे और दलित आंदोलन भड़काने में लगे हुए

Leave a Reply

Top